पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राहत:3 हजार परिवारों को बांटा आयरन फिल्टर

भानुप्रतापपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पूर्व भानुप्रतापपुर वनमंडल छत्तीसगढ़ का पहला लौह युक्त पानी से मुक्त वनमंडल बन चुका है। सर्वे उपरांत वनमंडल के 30 गांव में 3000 घर मिले थे, जो लौह युक्त पानी पी रहे थे। इससे स्वास्थ्य संबंधी समस्या आ रही है। इसे दूर करने के लिए पूर्व वन मंडल भानुप्रतापपुर के डीएफओ मनीष कश्यप ने बीड़ा उठाया और पूरे गांव का सर्वे करा कर परिवारों को आयरन को फिल्टर करने वाले बाल्टी उपलब्ध कराया। इससे लोगों को स्वच्छ पानी मिल रहा है। इसका नतीजा यह हुआ कि अब लोग कम बीमार हो रहे हैं। लौह अयस्क प्रचुर मात्रा में पूरे बस्तर में है। इससे यहां का भूजल भी लौह युक्त हो चुका है। ग्रामीण ऐसे पानी पीकर पेट खराब और पथरी से परेशान हो रहे थे। पानी का स्वाद भी लौह जैसा आता है। इसको देखते हुए वन विभाग ने क्षेत्र के 3000 घरों में विशेष आयरन फिल्टर बांटा है, जो चंद घंटे में पानी को पूरा साफ कर देता हैं। आंगागढ़, आमाबेड़ा और दुर्गूकोंदल रेंज के ग्रामीणों में इसका बहुत अच्छा परिणाम देखने को मिला है। दुर्गूकोंदल रेंज के धरमदेव, कांशीराम पटेल, देवलाल मंडावी ने बताया वन विभाग द्वारा दिया गया बाल्टी बहुत कारगर है आयरन छान कर साफ पानी मिलता है और इससे बीमारी में भी कमी आई है। इस फिल्टर की कीमत महज पांच सौ आती है। छत्तीसगढ़ में पूर्व भानुप्रतापपुर प्रथम वनमंडल बन चुका हैं जहां सभी ग्रामीण लौह युक्त पानी से छुटकारा पा रहे हैं। धुर नक्सल प्रभावित आमाबेड़ा रेंज में 10 गांव के 429 घरों में आयरन फिल्टर विधायक अनूप नाग और वन विभाग के माध्यम से बांटा गया। डीएफओ मनीष कश्यप ने बताया क्षेत्र में आयरन की प्रचुरता के साथ लोगों को भी आयरनयुक्त पानी मिल रहा है। इससे स्वास्थ्यगत समस्या से भी सामना करना पड़ रहा है। इस पर कब बजट में इसे समस्या का हल करने का प्रयास किया गया और बाल्टी में आयरन रिमूवर लगाकर लोगों को दिया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें