प्रशासन ने कार्रवाई शुरू की:शादी में गाइडलाइन उल्लंघन पर लगाया जुर्माना; तो धमका कर अर्थदंड लेने की बात की वायरल, प्रशासन ने थमाया नोटिस

भानुप्रतापपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला प्रशासन द्वारा कोरोना संक्रमण के चलते शादी के चलते गाइडलाइन जारी किया गया है। इसमें 10 से अधिक लोगों की अनुमति नहीं है। इसके बाद भी शादी कार्यक्रम में परिजन कई लोगों को बुला रहे हैं। इस पर प्रशासन ने कार्रवाई शुरू की।

इसी तरह नियमों का उल्लंघन कर रहे एक ग्रामीण पर प्रशासन ने कार्रवाई की तो उसने सोशल मीडिया पर प्रशासन द्वारा धमका कर जुर्माना वसूलने की बात वायरल कर दी। इस पर तहसीलदार ने नोटिस जारी कर वायरल करने वाले को बुलाया। तब ग्रामीण ने अपनी गलती मानते हुए गुस्से में होने के चलते गलत जानकारी वायरल करने की बात स्वीकार की और तहसीलदार के सामने माफीनामा भी लिखकर दिया। पिछले दिनों ग्राम चौगेल में एक शादी कार्यक्रम में कोरोना वायरस प्रोटोकॉल का उल्लंघन के चलते राजस्व विभाग ने छापामार अभियान चलाकर 10 हजार का आर्थिक दंड लगाया था। इसके बाद चौगेल रंजीत ठाकुर द्वारा दंड को धमका कर लेने की बात लिखकर सोशल मीडिया में उनके द्वारा वायरल कर दिया गया था।

विभाग को बदनाम करने किया गया था वायरल

तहसीलदार आनंद नेताम ने कहा पिछले दिनों चौगेल में शादी कार्यक्रम में कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन के चलते आर्थिक दंड लिया गया है। इसमें विभाग को बदनाम करने के लिए सोशल मीडिया पर वायरल किया गया था। इसको लेकर 5 लोगों नोटिस जारी किया गया था। इसके बाद चौगेल के रंजीत ठाकुर ने माफीनामा दिया है, जिसमे स्वीकार किया है कि गुस्से में पोस्ट किया था। मुझे गलती का एहसास है। मुझे गलती का दंड लिया है और बाकायदा इसकी पावती भी मिली है।

नोटिस मिलने से गुस्से में था इसलिए कर दिया वायरल

रंजीत ठाकुर ने कहा मुझसे अर्थदंड लिया गया था, जिससे में गुस्से में आकर पोस्ट कर दी। रंजीत ठाकुर ने तहसीलदार को इसको लेकर माफीनामा लिखकर भी दिया। उसने कहा अर्थदंड लेने से में नाराज हो गया था और पोस्ट डाली थी। इसके लिए मैं माफी चाहता हूं।

खबरें और भी हैं...