पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ऐसे संक्रमण कैसे रुकेगा:रायपुर से गोवंश को बूचड़खाने लेकर चला ट्रक 6 जिलों को पार का आंध्र प्रदेश बार्डर तक पहुंचा, बीजापुर में पकड़ा तो 35 मवेशी मिले, एक की मौत

जगदलपुर/बीजापुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रायपुर से बीजापुर तक 6 जिलों के हाईवे पर डेढ़ दर्जन चेकपोस्ट बनाए गए हैं। - Dainik Bhaskar
रायपुर से बीजापुर तक 6 जिलों के हाईवे पर डेढ़ दर्जन चेकपोस्ट बनाए गए हैं।

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में जवानों ने आंध्र प्रदेश बार्डर पर मवेशियों से भरा ट्रक पकड़ा है। ट्रक में 35 गोवंश को ठूंस-ठूंस कर भरा गया था। इसके कारण एक की मौत भी हो गई। तस्कर इन मवेशियों को लेकर बूचड़खाने जा रहे थे। खास बात यह है कि यह ट्रक गोवंश को लेकर 6 जिलों को पार करता हुआ आंध्र प्रदेश बार्डर तक पहुंच गया। संक्रमण रोकने के लिए प्रदेश में चेकपोस्ट बनाकर चेकिंग के तमाम दावे किए जा रहे हैं।

चेकपोस्ट से पहले ही चालक ट्रक छोड़कर भागा
छतीसगढ़-आंध्र प्रदेश बार्डर पर नक्सल क्षेत्र तारलागुड़ा में चेकपोस्ट बनाया गया है। वहां गुरुवार शाम वाहनों की चेकिंग की जा रही थी। यह देख चालक चेकपोस्ट से पहले ही ट्रक छोड़कर जंगल में भाग निकला। जब ट्रक की तलाशी ली गई तो अंदर 35 से ज्यादा मवेशी ठूंस-ठूंस कर भरे हुए थे। दम घुटने से एक की मौत भी हो गई है। SDOP अभिषेक सिंह ने बताया कि कार्रवाई पूरी होने तक सारे मवेशियों को थाना परिसर में ही रखा गया है।

6 जिलों में डेढ़ दर्जन से ज्यादा चेकपोस्ट, हर जगह सुरक्षा के दावे
रायपुर के ही एक ट्रक में मवेशियों को भरा गया। वहां से धमतरी, कांकेर , कोंडागांव, जगदलपुर और दंतेवाड़ा चेकपोस्ट को पार कर तस्कर बीजापुर में आंध्र प्रदेश बार्डर तक पहुंच गया। इन 6 जिलों में हाईवे पर डेढ़ दर्जन से ज्यादा चेकपोस्ट बनाए गए हैं। संक्रमण की रफ्तार को रोकने के लिए प्रदेश में लॉकडाउन लगा है। एक जिले से दूसरे में बिना वाहन पास के एंट्री पर रोक है। हर जिले के प्रशासन ने जांच के तमाम दावे किए हैं, पर सब बेकार साबित हो गए।

कुछ माह पूर्व भी आ चुके हैं मवेशियों की तस्करी के मामले
करीब 2 माह पहले दंतेवाड़ा जिले के नेशनल हाईवे पर स्थित गीदम थाना के जवानों ने आधी रात मवेशियों से भरा ट्रक पकड़ा था। इन पर कार्रवाई भी की गई थी। करीब एक माह महीने पहले बीजापुर में तिमेड बॉर्डर को तस्कर ने बड़ी आसानी से पार कर महाराष्ट्र में प्रवेश कर लिया था। जानकारी लगने के बाद महाराष्ट्र में तस्कर को पकड़ा गया था।

खबरें और भी हैं...