मंत्री लखमा बोले- भाजपा को शर्म आनी चाहिए:नगरीय निकाय चुनाव में प्रचार करने पहुंचे आबकारी मंत्री ने चुल्लु भर पानी में डूब मरने की सीख भी दी

बीजापुर/सुकमा5 महीने पहले
आबकारी मंत्री कवासी लखमा भोपालपटनम में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे।

छत्तीसगढ़ के बस्तर में नगरीय निकाय चुनाव को लेकर कांग्रेस और भाजपा दोनों पार्टी जोरों से प्रचार-प्रसार में जुट गई है। इस बीच आबकारी मंत्री कवासी लखमा का भोपालपटनम में जनता को संबोधित करते हुए एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में लखमा कहते दिख रहे हैं कि, पूर्व शिक्षा मंत्री कोंटा में डेरा जमाए हुए बैठे हैं। वहां मेरे बेटे के साथ जुबानी जंग कर रहे हैं। लेकिन उससे नहीं जीत पाएंगे। लखमा के बेटे हरीश कवासी ने वहां कांग्रेस प्रचार की कमान संभाली हुई है। लखमा ने आगे कहा कि, वे बोलते हैं कांग्रेस की सरकार बोरी नहीं दे रही है। उन्हें थोड़ी बहुत शर्म होनी चाहिए। यदि शर्म नहीं है तो चुल्लू भर पानी में डूब मरना चाहिए।

दरअसल, आबकारी मंत्री कवासी लखमा नगरीय निकाय चुनाव को लेकर पिछले कुछ दिनों से बीजापुर जिले में ही डेरा जमाए हुए हैं। वे भैरमगढ़ और भोपालपटनम का लगातार दौरा भी कर रहे हैं। लखमा ने कहा कि, चुनाव जीतने के लिए कोई बड़ा मास्टर प्लान नहीं बनाया गया है। बल्कि छोटी-छोटी मूलभूत समस्यों को दूर करना है। पीने के लिए पानी, बिजली, पट्टा, पेंशन समेत भूपेश सरकार की हर योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाना है। उन्होंने भोपालपटनम की जनता से कहा कि, जल्द ही यहां अंतरराष्ट्रीय बस स्टैंड बनाया जाएगा।

कोंटा में केदार कश्यप ने भी कांग्रेस को जमकर घेरा है।
कोंटा में केदार कश्यप ने भी कांग्रेस को जमकर घेरा है।

केदार कश्यप ने कांग्रेस पर लगाया घोटाले का आरोप
इधर, कोंटा में पूर्व शिक्षा मंत्री और भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता केदार कश्यप ने भी छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार को जमकर घेरा है। उन्होंने कहा कि, मुख्यमंत्री और मंत्री ये जनता के नहीं हैं। केवल कांग्रेस पार्टी के ही हैं। इनकी चिंता केवल कांग्रेस पार्टी के लोगों के लिए ही है, जनता के लिए नहीं है। कोंटा में कांग्रेस ने तालाब निर्माण के काम में 1 करोड़ रुपए का घोटाला किया है। स्ट्रीट लाइट के कार्य में 80 लाख रुपए का घोटाला किया गया है।

लोगों के घर और रास्तों में उजाला करने की बजाए कांग्रेस ने अंधेरा फैलाया है। इनकी सोच है कोंटा अंधेरा में कायम रहे। नाली निर्माण, जय स्तंभ में बने पार्क, सीसी सड़क निर्माण, हैंडपंप लगाने के नाम पर भी लाखों रुपए का घोटाला किया गया है। हैंडपंप जनता के लिए नहीं बल्कि पार्टी कार्यकर्ताओं के घर में लगाया गया है।

दक्षिण बस्तर के तीन नगरीय निकायों में होने हैं चुनाव
सुकमा जिले के कोंटा और बीजापुर जिले के भोपालपटनम और भैरमगढ़ में निकाय चुनाव होने हैं। फिलहाल इन तीनों निकायों में पिछले चुनाव में कांग्रेस का ही वर्चस्व था। विपक्ष में रहते BJP के लिए इन तीनों निकायों में जीत दर्ज करना एक बड़ी चुनौती है। BJP के पूर्व मंत्री केदार कश्यप ने कोंटा की कमान संभाली हुई है तो वहीं पूर्व वन मंत्री महेश गागड़ा ने भोपालपटनम और भैरमगढ़ में जीत दिलाने अपना पूरा दमखम लगा रहे हैं।