नक्सलवाद खात्मे के लिए बनी ठोस नीति:बीजापुर पहुंचे केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय बोले-केंद्र और राज्य मिलकर काम करें, तभी खत्म होगा नक्सलवाद

बीजापुर7 महीने पहले
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बीजापुर में प्रेस वार्ता ली।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कहा कि नक्सलवाद के खात्मे के लिए एक ठोस नीति बनी है। केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं को साथ मिलाकर काम किया जाएगा तभी नक्सलवाद का खात्मा संभव है। उन्होंने कहा कि बस्तर में मुठभेड़ होने पर ही बल का प्रयोग किया जाता है। अन्यथा नक्सली हिंसा का रास्ता छोड़ मुख्यधारा में आ जाएं और खुशहाल जिंदगी जिएं। सरकार की योजनाओं का लाभ उठाएं। रोजगार से जुड़ें। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री बुधवार को बीजापुर जिले के प्रवास पर थे।

केंद्रीय मंत्री राय ने कहा कि नक्सलवाद के खिलाफ केंद्र और राज्य सरकार साथ मिलकर काम कर रहे हैं। हमारे बीच कॉर्डिनेशन की कोई कमी नहीं है। उन्होंने केंद्र सरकार के कामों की जमकर तारीफ की। जब चुनाव की तैयारियों को लेकर उनसे सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि भाजपा हर दिन अपनी तैयारी करती है। चुनाव के लिए हमें कोई बहाना ढूंढने की जरूरत नहीं है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम और काम ही काफी है।

बीजापुर के सर्किट हाउस में मीडियो से बात करते हुए राय ने कहा कि हिंदुस्तान का एक-एक कोना हमारे लिए महत्वपूर्ण है। हर क्षेत्र का विकास करना ही हमारा मुख्य उद्देश्य है। बस्तर नक्सलवादी गतिविधियों का एक बड़ा केंद्र रहा है, लेकिन अभी प्रभाव बहुत कम हुआ है। इन इलाकों में स्कूल खुल रही हैं, सड़क बन रही है। लगातार विकास हो रहा है।

पुलिस कैंप का विरोध ग्रामीण नहीं कर रहे
नित्यानंद राय ने कहा कि बस्तर के जिन-जिन इलाकों में पुलिस कैंप का विरोध किया जा रहा है वे ग्रामीण नहीं कर रहे हैं। कैंप से तो ग्रामीण बेहद खुश हैं। जो लोग हिंसा का रास्ता अपनाए हुए हैं उन लोगों को कैंप खुलने से तकलीफ हो रही है। नक्सली कैंप का विरोध कर रहे हैं आम जनता नहीं।