• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • Dantewada
  • 2 Operation Theaters And 16 Bedded ICU Ready In Chhattisgarh Dantewada District Hospital, Will Be Started Within A Week, Patients Of Bijapur And Sukma Districts Will Also Get Relief

लोगों के लिए राहत की खबर:दन्तेवाड़ा जिला अस्पताल में 2 ऑपरेशन थियेटर और 16 बिस्तरों वाला ICU बनकर तैयार, हफ्तेभर के अंदर हो जाएगा शुरू, बीजापुर और सुकमा जिले के मरीजों को भी मिलेगी राहत

दंतेवाड़ा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दंतेवाड़ा जिला अस्पताल में कलेक्टर दीपक सोनी की पहल के बाद 2 और ऑपरेशन थियेटर बन कर तैयार हो गए हैं। अब जिलेवासियों को जगदलपुर या फिर रायपुर नहीं जाना पड़ेगा। - Dainik Bhaskar
दंतेवाड़ा जिला अस्पताल में कलेक्टर दीपक सोनी की पहल के बाद 2 और ऑपरेशन थियेटर बन कर तैयार हो गए हैं। अब जिलेवासियों को जगदलपुर या फिर रायपुर नहीं जाना पड़ेगा।

दन्तेवाड़ा जिलेवासियों के लिए एक राहत की खबर है। अब उन्हें ऑपरेशन के लिए जगदलपुर या फिर रायपुर नहीं जाना पड़ेगा। क्योंकि अब जिला अस्पताल में ही सर्वसुविधायुक्त 2 और ऑपरेशन थियेटर बनकर तैयार हो गए है। जिला अस्पताल के ग्राउंड फ्लोर में 2 ऑपरेशन थियेटर बनाए गए है। यहां अब कुल ओटी की संख्या 4 हो गई है। यही नहीं, अस्पताल में अब 16 बिस्तरों वाला ICU भी लगभग बनकर तैयार हो गया है। इसका फायदा केवल दन्तेवाड़ा वासियों को ही नहीं बल्कि सुकमा और बीजापुर के लोगों को भी मिलेगा।

जिला अस्पताल के ग्राउंड फ्लोर में ही 16 बिस्तरों वाला सर्वसुविधायुक्त ICU भी बन कर तैयार हो गया है। सप्ताहभर के अंदर यह चालू हो जाएगा।
जिला अस्पताल के ग्राउंड फ्लोर में ही 16 बिस्तरों वाला सर्वसुविधायुक्त ICU भी बन कर तैयार हो गया है। सप्ताहभर के अंदर यह चालू हो जाएगा।

विवादों में था जिला अस्पताल के जीर्णोद्धार का काम

दरअसल दन्तेवाड़ा जिला अस्पताल का जीर्णोद्धार का काम काफी विवादों में था। ऑपरेशन थियेटर, ICU के लिए स्वीकृति तो थी ही, लेकिन विवादों के कारण 2018 के बाद से मामला अटका था। कलेक्टर दीपक सोनी ने गम्भीरता दिखाई और अटके काम को दोबारा शुरू कराया।अब ये बनकर तैयार भी हो गए। दन्तेवाड़ा जिला अस्पताल में 2 और अतिरिक्त ओटी बन जाने से जगदलपुर मेडिकल कॉलेज का लोड भी अब थोड़ा कम होगा।

अतिरिक्त ओटी नहीं होने से केस किए जाते थे रेफर

दंतेवाड़ा जिला अस्पताल में दो ऑपरेशन थियेटर थे। इनमें एक सामान्य ऑपरेशन के लिए जबकि दूसरा इमरजेंसी केस के लिए रिजर्व था। ऐसे में एक ही ओटी पर अलग-अलग मरीजों को निर्भर रहना पड़ता था व ऑपरेशन के लिए लंबा इंतजार करना पड़ता था। ऐसे में अधिकांश केस जगदलपुर रेफर किए जाते थे। हर दिन औसतन 2-3 ऑपरेशन होते हैं। यहां सर्वसुविधायुक्त ICU तक नहीं था।

जिला अस्पताल में ऑपरेशन थियेटर बन जाने से अब यहां आंख, नाक, गला,कान,पेट के ऑपरेशन आसानी से हो सकेंगे।
जिला अस्पताल में ऑपरेशन थियेटर बन जाने से अब यहां आंख, नाक, गला,कान,पेट के ऑपरेशन आसानी से हो सकेंगे।

अब ये ऑपरेशन हो सकेंगे

जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ संजय बघेल ने बताया कि यहां आंख, नाक, गला, कान, पेट से सम्बंधित बीमारियों सहित अन्य के ऑपरेशन आसानी से हो सकेंगे। मरीजों को लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स हैं। डीएमएफ के तहत नियुक्ति हुई है। इनमें दो सर्जन, गायनेकोलॉजिस्ट, हड्डी रोग विशेषज्ञ, ईएमई हैं। लेकिन अभी एनैस्थिसिया सिर्फ एक ही हैं।

कलेक्टर दीपक सोनी ने बताया कि जिला अस्पताल में दो और ऑपरेशन थियेटर और ICU बनाया गया है। इसे जल्द ही शुरू कराया जाएगा। अब मरीजों को जगदलपुर या फिर रायपुर नहीं जाना पड़ेगा। क्योंकि उन्हें जिला में ही लाभ मिलेगा। जिला अस्पताल में कई स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की नियुक्ति भी की गई है। हमारी कोशिश है कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में और बेहतर से बेहतर काम हो सके। जिसका सीधा फायदा क्षेत्र की जनता को मिले।

खबरें और भी हैं...