स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव बोले:एक जमीन सुरक्षित करके रखी जानी चाहिए कि भविष्य में मेडिकल कॉलेज इस जगह पर बनाया जाए

दंतेवाड़ा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश में चुनाव को डेढ़ साल रह गए हैं। अब मंत्रियों का भी तूफानी दौरा प्रदेश के जिलों में शुरू हो गया है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव बुधवार को दंतेवाड़ा प्रवास पर रहे। दंतेवाड़ा में सुबह मां दंतेश्वरी के दर्शन किए और दिनभर जिला मुख्यालय में बिताया। यहां जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण, पत्रकारों, नेताओं से मुलाकात व अफसरों की बैठक का सिलसिला दिनभर चलता रहा।

देवी दंतेश्वरी के दर्शन के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने अचानक जिला अस्पताल में दबिश दी। यहां की व्यवस्थाओं से नाखुश दिखे। मरीजों व उनके परिजन से बातचीत की। अस्पताल की व्यवस्थाओं को सुधारने के निर्देश अफसरों को दिए। इसके बाद मंत्री टीएस सिंह देव पत्रकारों से रूबरू हुए। एक सवाल पर कहा कि 5 पीढ़ियों से कांग्रेसी हूं। संपर्क सभी राजनीतिक दलों से होता है, इसका ये मतलब नहीं कि कांग्रेस छोड़ रहा हूं।

दंतेवाड़ा में मेडिकल कॉलेज खुलने के सवाल पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि एक जमीन सुरक्षित करके रखी जानी चाहिए कि भविष्य में मेडिकल कॉलेज इस जगह पर बनाया जाए।

मेडिकल कॉलेज के लिए राशि देने का प्रावधान केंद्र सरकार का होता है। प्रदेश में अभी 3 नए मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं। प्रति एक कॉलेज के पीछे लगभग 325 करोड़ रुपए का खर्च हो रहा है। कवर्धा और जांजगीर चांपा में 2 और मेडिकल कॉलेज खोलने की सरकार की तरफ से पहल हो गई है। उसी तर्ज पर दंतेवाड़ा में भी संभावना है। यहां पर मेडिकल कॉलेज की आवश्यकता भी है।

खबरें और भी हैं...