पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आदिवासी का नाम राम के साथ ही पूरा होता है:बस्तर के आदिवासी बहकावे में न आएं: कड़ती

दंतेवाड़ा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भाजपा के मंडल अध्यक्ष व आदिवासी नेता श्रवण कड़ती ने कहा कि प्रदेश में आजकल कुछ ऐसे विभाजनकारी संगठन सक्रिय हो गए हैं, जो कभी भगवान श्रीराम का विरोध करते हैं तो कभी माता दुर्गा और गणेश जी को पूजने का।

इसके पीछे वो कारण देते हैं कि आदिवासियों की अपनी संस्कृति है वो हिन्दू नहीं हैं, ऐसा कहकर वो आदिवासियों के मध्य ये भ्रांति फैलाना चाहते हैं जिसमें वो कभी सफल नहीं हो सकेंगे। उन्होंने दिए बयान में कहा कि मैंने देखा है विशेषकर आदिवासियों के नाम के साथ ही राम सरनेम से पहले लगता है, जैसे सोमारू राम ,मंगलू राम ,रामूराम ।बिना राम शब्द के उनका नाम अधूरा से लगता है आधुनिकता की वजह से अब आदिवासियों में भी कुछ फैंसी नाम चलन में आ रहे हैं अन्यथा तो हर आदिवासी का नाम राम के साथ ही पूरा होता है।

खबरें और भी हैं...