100 से अधिक लेख लिख चुके हैं सीओ राकेश:तीन साल बस्तर में रहे कमांडेंट ने लिखी किताब, केंद्रीय मंत्री ने किया विमोचन

दंतेवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजु को किताब भेंट करते सीओ । - Dainik Bhaskar
केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजु को किताब भेंट करते सीओ ।

सीआरपीएफ के सीओ राकेश कुमार सिंह ने बस्तर में अपने 3 साल के अनुभवों पर एक और किताब ‘रेड ऑफ कलर्स’ लिखी। इसका विमोचन देश के कानून व न्याय मंत्री किरेन रिजिजु ने दिल्ली में किया। उन्होंने इसके लिए खुशी जताकर सीओ राकेश को शुभकामनाएं भी दी। इसके पहले सीओ राकेश ने नक्सलवाद एक अनकहा सच नाम की किताब लिखी थी।

हाल ही में इसके लिए उन्हें गृहमंत्री अमित शाह ने सम्मानित किया था। बता दें राकेश कुमार 3 साल तक दंतेवाड़ा में सीआरपीएफ 195 बटालियन में सेवाएं दे रहे थे। अभी वे दिल्ली में पदस्थ हैं। साल 2011 में लिखी नक्सलवाद और पुलिस की भूमिका व साल 2021 में लिखी। नक्सलवाद अनकहा सच के लिए उन्हें प्रतिष्ठित गोविंद बल्लभ पंत पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है। भास्कर से चर्चा में सीओ राकेश कुमार ने बताया कि बस्तर को लोग खतरनाक जगह समझते हैं। इस किताब के जरिए बताना चाहता हूं कि बस्तर एक बेहद खूबसूरत जगह है। यह किताब अमेेेजॉन पर उपलब्ध है। राकेश कुमार सीआरपीएफ में 25 सालों से अपनी सेवाएं दे रहे हैं। भारत कई पदकों के साथ सीआरपीएफ की ओर से 10 प्रशस्ति डिस्क से सम्मानित किया गया है। कई पत्र-पत्रिकाओं में 100 से अधिक लेख भी लिखे हैं।

100 से अधिक लेख लिख चुके हैं, कई अवार्ड भी मिले
राकेश कुमार सीआरपीएफ में 25 सालों से अपनी सेवाएं दे रहे हैं। भारत कई पदकों के साथ-साथ सीआरपीएफ द्वारा 10 प्रशस्ति डिस्क से सम्मानित किया गया है। उन्होंने नक्सल प्रभावित ज़िला दंतेवाड़ा के अलावा कश्मीर सहित अन्य क्षेत्रों में सेवाएं भी दी हैं। उनकी कमान के तहत, बस्तर में उनकी यूनिट को 2019 में सर्वश्रेष्ठ ऑपरेशनल बटालियन के रूप में चुना गया था। कई पत्र-पत्रिकाओं में 100 से अधिक लेख भी लिखे हैं।

खबरें और भी हैं...