दुष्कर्म का मामला:देवभोग थाने में 10 महीने में दुष्कर्म के 7 मामले दर्ज हुए, इनमें 5 पीड़ित नाबालिग

देवभोग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दुष्कर्म का एक और मामला देवभोग थाने में दर्ज हुआ। इस मामले के साथ बीते 10 माह में दुष्कर्म के कुल 7 मामले दर्ज हो गए, जिसमें 5 पीड़ित नाबालिग हैं। सभी मामले में शादी का प्रलोभन वजह बना है। थाना प्रभारी विकास बघेल ने मामले की पुष्टि की।

उन्होंने बताया कि सिनापाली निवासी सुभाष साहू 28 वर्ष के खिलाफ मामला दर्ज कर गुरुवार को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में जेल दाखिल कराया गया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी 6 माह पहले नाबालिग पीड़िता को भगा ले आया था। आरोपी सजातीय होने के कारण सामाजिक निर्णय लेकर दोनों को साथ रहने की सहमति दी गई थी। समाज के दबाव के आगे लाचार पिता ने रजामंदी दे दी थी लेकिन 19 सितंबर को पिता ने देवभोग थाने आकर बेटी की लापता होने की सूचना दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर खोजबीन शुरू की। बरामदगी के बाद बयान दर्ज के लिए पीड़िता को बाल कल्याण समिति में पेश किया। कलमबद्ध बयान में पीड़िता ने बताया कि कथित प्रेमी ने 6 माह तक दुष्कर्म किया, 2 माह का गर्भ भी ठहरा, जो बिगड़ी तबियत के सुधार के लिए खाई गई दवा के कारण गर्भपात हो गया।

जागरूकता अभियान चलाए जाएंगे: टीआई
थाना क्षेत्र में दुष्कर्म के बढ़ते मामले को लेकर पुलिस चिंतित है। विवेचना के दरम्यान पुलिस ने इन सभी मामले में बहला फुसला कर नाबालिग को अपने वश में करने की बात सामने आई है। थाना प्रभारी विकास बघेल ने मामले को चिंताजनक तो बताया है। साथ ही कहा है कि आला अफसरों से मार्गदर्शन लेकर जागरूकता कार्यक्रम जैसे आयोजन करवाने की मंशा बना रहे हैं।

खबरें और भी हैं...