पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खुशहाली की कामना:नुआखाई पर नए अन्न का बांटा प्रसाद

देवभोग11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नुआखाई खाने के बाद रविवार को लोगों ने घूम-घूम कर एक-दूसरे को बधाई दी। ओडिशा के 3 जिले से घिरा है इलाका इसलिए ओडिसी संस्कृति की 100 साल से भी ज्यादा पुरानी परंपरा अब हमारी परंपरा का हिस्सा बन गया है।

नुआखाई का पर्व प्रतिवर्ष भाद्रपद मास के ऋषि पंचमी को मनाया जाता है। क्षेत्र मे शनिवार को नए अन्न ग्रहण का नुआखाई पर्व मनाया गया। इस दिन सभी लोगों ने नए वस्त्र पहनकर ग्राम के देवी-देवताओं एवं अपने ईष्टदेव की पूजा कर धान की बाली व नए धान के चिवड़ा का भोग लगाया फिर इसी नए अन्न का प्रसाद ग्रहण किया। रविवार को ग्राम गोहरापदर में नवाखाई मिलन समारोह मनाया गया। ग्राम के प्रमुख पटेल, झांखर, पुजारी, सरपंच, पंच एवं गणमान्य नागरिक सबके घर पहुंचकर सभी को नवाखाई की बधाई दी।

पूर्व संसदीय सचिव एवं ग्राम पटेल गोवर्धन सिंह मांझी ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि नवाखाई त्योहार हमारे क्षेत्र में प्रमुख पर्व है, जिसे हम सब लोग मिलजुलकर मनाते हैं। हम सबको एक दूसरे का गिला शिकवा दूर कर सहयोग की भावना से काम करना है ताकि ग्राम, क्षेत्र, प्रदेश के विकास में सहयोगी बन सके। आपसी मनमुटाव को भुलाकर भाईचारा, सामाजिक सदभाव से रहें। मांझी ने नवाखाई पर सुख, शांति, समृद्धि और खुशहाली की कामना की। भाजपा मंडल अध्यक्ष गुरुनारायण तिवारी, पूर्व सरपंच मेघराम बघेल, ग्राम पुजारी देवोराम नेताम, वरिष्ठ नागरिक नरसिंह यादव, जुगधर यादव, विष्णुनारायण तिवारी, ललितराम मांझी, युधिष्ठिर नागेश, प्रेमसिंह यादव, तुकाराम यादव, दशरुराम मांझी, भीष्मोराम नागेश, खगेश्वर यादव, रुपराम यादव, कपूरचंद नागेश, भिखारीराम यादव, तुकाराम पाड़े, झारुराम नागेश सहित अन्य ने गांव का भ्रमण ग्रामीणों से मुलाकात की।

खबरें और भी हैं...