परेशानी / क्वारेंटाइन सेंटर में ड्यूटी के बाद आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका को घर नहीं आने दे रहे

Anganwadi workers are not allowing Sahayika to come home after duty at Quarantine Center
X
Anganwadi workers are not allowing Sahayika to come home after duty at Quarantine Center

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 05:00 AM IST

धमतरी. धमतरी जिले के चारों ब्लॉक में क्वारेंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। इन सेंटरों में गर्भवती महिला व छोटे-छोटे बच्चे भी क्वारेंटाइन हो गए। इनकी देखभाल के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिकाओं की ड्यूटी लगाई गई है। बिना सुरक्षा के ये क्वारेंटाइन में रह रहीं महिलाओं के संपर्क में आ रही हैं। 
आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका बिना सुरक्षा की ड्यूटी कर रहीं हैं। ड्यूटी करने के बाद इन कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं को लोग घरों में नहीं आने दे रहे हैं। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका संगठन की अध्यक्ष रेवती वत्सल, मीना विश्वकर्मा, राजलक्ष्मी वैष्णव, उमेश्वरी बघेल, उत्तरा दीवान, ईश्वरी बघेल आदि ने कलेक्टर से शिकायत की।

सेंटर में ड्यूटी करने वालों को बाहर ड्यूटी न कराएं
कार्यकर्ताओं ने कहा कि क्वारेंटाइन सेंटर में ड्यूटी करने वाली महिलाओं को बाहर ड्यूटी न कराई जाए। बाहर ड्यूटी करने पर लोग हीन भावना से देखते हैं और दुर्व्यवहार करते हैं। अलग-अलग शिफ्ट में 4-4 घंटे ड्यूटी कर रहे। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं को अन्य कर्मचारियों की तरह 50 लाख का का बीमा, प्रोत्साहन राशि के रूप में प्रतिदिन 500 रुपए दिए जाएं। स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को शिक्षकों को जिम्मेदारी में खिलाना चाहिए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना