धमतरी में नाव पलटने से 2 लड़कियां डूबीं:डैम में बोटिंग के दौरान हादसा,5 को बचाया गया; दोनों का अब तक नहीं लगा पता

धमतरी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के धमतरी में शुक्रवार दोपहर डैम में नाव पलटने से दो लड़कियां डूब गईं। दोनों का अभी तक कुछ पता नहीं चल सका है। पुलिस और SDRF की टीम उन्हें तलाश करने में जुटी है। दोनों लड़कियां 5 अन्य लोगों के साथ बोटिंग के लिए गई थीं। बाकी सबको बचा लिया गया है। बताया जा रहा है कि सभी लोग गरियाबंद से एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए आए थे।

जानकारी के मुताबिक, 3 लड़के और 4 लड़कियां शुक्रवार दोपहर को सोंढूर डैम घूमने के लिए गए थे। सातों लोग डैम में बोटिंग के बाद लौट रहे थे। इसी दौरान अचानक से नाव में पानी भरना शुरू हो गया। यह देख साथ आए लड़कों में से दो ने नदी में छलांग लगा दी। दोनों के कूदने से झटके के चलते नाव पलट गई और सभी लोग डैम में डूबने लगे। हादसा होते देख आसपास के लोगों ने शोर मचाया।

SDRF की टीम दोनों बच्चियों को तलाश रही

इसके बाद कुछ लोग पहुंचे और उन्होंने डूब रहे लोगों को बचाने का प्रयास किया। इसमें 5 लोगों की जान बच गई, लेकिन 15 साल की बिंदिया नागेश पुत्री रामधीन नागेश और 14 साल की मोनिका नेताम पुत्री बिसाहू नेताम दोनों डैम में बह गए। इस पर लोगों ने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद SDRF की टीम दोनों बच्चियों को तलाश कर रही है, लेकिन उनका पता नहीं लगा है।

बोटिंग करने गए सभी की उम्र 14 से 22 साल

इस हादसे में एक लड़की को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सभी लोगों की उम्र 14 से 22 साल के बीच है। यह सभी गरियाबंद के धवलपुर के रहने वाले हैं। ये धमतरी के बेलरबाहार में एक शादी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आए थे। फिलहाल नगरी SDOP मयंक रणसिंह और मेचका थाना प्रभारी मथुरा सिंह ठाकुर टीम के साथ मौके पर मौजूद हैं।