पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बाजार में बारिश ने लगाया कर्फ्यू:शहर पानी-पानी, 6 घंटे में 5 इंच बारिश, हाईवे लबालब, कई घरों में घुटने तक पानी, इधर अलर्ट जारी, अफसरों की बैठक लेकर निगरानी करने के निर्देश दिए

धमतरी12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
यह तस्वीर मंगलवार सुबह 10.30 बजे खींची गई है जो 3 वार्डों को जोड़ने वाले बनियापारा चौक की है। भारी बारिश से व्यापारियों ने दुकानें नहीं खोली। सड़कों पर पानी भरा रहा। कुछ लोग छाते लेकर जाते दिखे तो कुछ बारिश से बचने के लिए दुकानों में खड़े रहे।  फोटो: अजय देवांगन - Dainik Bhaskar
यह तस्वीर मंगलवार सुबह 10.30 बजे खींची गई है जो 3 वार्डों को जोड़ने वाले बनियापारा चौक की है। भारी बारिश से व्यापारियों ने दुकानें नहीं खोली। सड़कों पर पानी भरा रहा। कुछ लोग छाते लेकर जाते दिखे तो कुछ बारिश से बचने के लिए दुकानों में खड़े रहे। फोटो: अजय देवांगन
  • गंगरेल में रिकॉर्ड 23 हजार क्यूसेक आवक, नदी-नाले उफान पर, मगरलोड क्षेत्र के दर्जनभर रपटे डूबे

जिले में मंगलवार को लगातार मूसलाधार बारिश हुई। सुबह 7 बजे से लगातार दोपहर 1 बजे तक बारिश से शहर में कर्फ्यू की स्थिति रही। बाजार नहीं खुल सका। एनएच पर 4 फीट पानी भर गया। बाइक, कारें आधी डूब गईं। पुराने बस स्टैंड के पास पानी भरने से 2 घंटे तक एनएच-30 बंद रहा। निचली बस्तियों की सड़कों पर कमर तक पानी भरने से लोग घरों में ही रहे। धमतरी से गरियाबंद को जोड़ने वाले भोथा के पास सड़क पर 2 फीट पानी बहता रहा।

एनएच किनारे सोनोग्राफी सेंटर में 1 फीट पानी भर गया था। अर्जुनी थाने, घरों में 2 फीट तक पानी घुस गया। दस्तावेज, राशन सामान भीग गया। आमापारा में गाेलबाजार के पीछे सबसे ज्यादा 4 फीट पानी भर गया। बैरिकेड लगाकर ब्लॉक किया। विमल टॉकीज रोड, बनियापारा, गुजराती धर्मशाला सड़क पर भी 4 से 5 फीट पानी भर गया। बाइक डूब गईं थी। रामपुर, बठेना, सोरिद, टिकरापारा सहित बस्तियाें में भी पानी भर गया।

कैचमेंट एरिया में अच्छी बारिश, बांधों में आवक बढ़ी

कैचमेंट क्षेत्र कांकेर जिले में भी अच्छी बारिश से गंगरेल सहित 3 सहायक बांधों में पानी की आवक अचानक बढ़ गई। दोपहर में गंगरेल में रिकॉर्ड 23 हजार क्यूसेक पानी आने से बांध का जलस्तर हर घंटे 3 सेमी बढ़ता रहा। धमतरी और कुरूद में 5-5 इंच बारिश रिकॉर्ड की गई है। मगरलोड तहसील में 5.54 इंच बारिश के साथ प्रदेश में दूसरे नंबर पर रहा।

येलो अलर्ट जारी: अगले 24 घंटे भारी बारिश के आसार

मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा ने बताया उत्तर छत्तीसगढ़ और उत्तरी अंदरूनी ओडिशा के ऊपर एक गहरा अवदाब है। पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में लगातार आगे बढ़ते हुए 48 घंटे में उत्तर छग, मध्यप्रदेश को पार करते कमजोर होने के बाद एक चिह्नित निम्न दाब के क्षेत्र के रूप में परिवर्तित होने की संभावना है। 15 सितंबर को जिले में हल्की से मध्यम बारिश के आसार है।​​​​​​​

यह भी जानिए

  • ​​​​​​​राजपुर और मोहंदी स्थित एप्रोच रोड बहा।
  • मगरलोड को जोड़ने वाली छिपली-लुंगे मार्ग बंद।
  • छिपली-मेघा पुल के ऊपर 2 फीट पानी।
  • कुंडेल से कोकड़ी नाला, कोरगांव से परसाबुडा नाला ब्लॉक।
  • धमतरी से गरियाबंद मार्ग में भोथा के पास 2 फीट पानी। पानी निकासी करने सड़क को जेसीबी से खोदा।
  • भोथा से लड़ेर मार्ग में 3 फीट ऊपर पानी चल रहा है, जिससे भोथा और लड़ेर का संपर्क टूटा।
  • मथुरा से मगरलोड, सलोनी में 3 फीट ऊपर पानी चलने से धमतरी मुख्यालय से संपर्क टूटा।
खबरें और भी हैं...