पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रदर्शन:किसानों ने 2 घंटे दिया धरना, जब हाईवे पर बैठे तो 15 मिनट में पुलिस ने हटाया

धमतरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • संयुक्त किसान मोर्चा ने अर्जुनी मोड़ पर जताया विरोध, कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग

तीन कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे आंदोलन के समर्थन में शनिवार को संयुक्त किसान मोर्चा ने अर्जुनी मोड़ के पास नेशनल हाईवे पर करीब 2 घंटे तक धरना प्रदर्शन किया। इसके मात्र 15 मिनट सांकेतिक चक्काजाम किया। इस दौरान पुलिस व संयुक्त मोर्चा के किसानों के बीच पहले से तय झूमाझटकी भी हुई। इस दौरान कुछ कार्यकर्ता पुलिसकर्मियों से भिड़ भी गए। हालांकि ज्यादा विवाद नहीं हुआ। चक्काजाम के दौरान बगल से रास्ता होने के कारण वाहनों के मार्ग को बदल दिया गया था।

अर्जुनी मोड़ के पास हुए प्रदर्शन में हाईवे किनारे किसानों ने 12 बजे से धरना दिया। इसके बाद अंतिम 15 मिनट में हाईवे पर बैठकर सांकेतिक चक्काजाम किया। 2.25 बजे संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता हाईवे पर बैठ गए। पहले 10 मिनट तक तो पुलिस अफसरों ने विरोध नहीं किया।

फिर पुलिस ने संयुक्त मोर्चा के कार्यकर्ताओं को हाईवे से हटने कहा। कार्यकर्ताओं ने हटने से मना कर दिया। इसके बाद पुलिस कर्मियों ने नहीं हटने वाले दो तीन कार्यकर्ताओं को सड़क से उठाकर हटा दिया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार व नरेंद्र मोदी के विरोध में नारे लगाए।

किसान बोले-वापस लिए जाएं तीनों कृषि कानून

संयुक्त मोर्चा के सलाहकार अधिवक्ता शत्रुहन साहू ने धरना प्रदर्शन के दौरान कहा कि केंद्र सरकार के द्वारा कार्पोरेट घराने के लाभ के लिए तीन दमनकारी जनविरोधी कृषि कानून लगाए गए हैं। इनकी वापसी एवं समर्थन मूल्य की गारंटी की मांग करते हुए 73 दिन से किसान संगठनों के किसान दिल्ली के पास आंदोलन कर रहे हैं।

सत्ता के अहंकार में डूबे केंद्र की मोदी सरकार बदनाम करने की नियत से तरह तरह के षड्यंत्र कर कर रही है। किसानों की किलेबंदी, घेराबंदी कर इंटरनेट बंदी की जा रही है। अन्नदाताओं की आवाज को कुचलने का कुटिल षड्यंत्र किया है। इसके विरोध में संयुक्त राष्ट्रीय किसान मोर्चा दिल्ली के आह्वान पर छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ से संबद्ध राष्ट्रीय किसान मोर्चा एवं राष्ट्रीय मतदाता जागृति मंच के संयुक्त तत्वावधान में अर्जुनी मोड एवं कुरूद में राष्ट्रीय राजमार्ग को जाम किया गया।

इस अवसर पर खेती बचाओ यात्रा के विधिक सलाहकार अधिवक्ता शत्रुहन साहू, संजय चंद्राकर, टिकेश्वर साहू, राम विशाल साहू, अशफाक अली हाशमी, मनोज भतपरी, भुनेश्वर साहू, दिग्विजय साहू ने तीनों कृषि कानून वापस लेने कहा।

कुरूद में किसान संगठनों ने हाईवे पर किया चक्काजाम, बैलगाड़ी पर रैली निकाली

कुरूद में भी नेशनल हाईवे पर अटल प्रवेश द्वार के पास तीनाें कृषि कानून के विरोध में किसान संगठनों ने कानून को वापस लिए जाने की मांग करते हुए आंदाेलन किया गया। यहां इस दाैरान सड़क पर वाहनों की कतार लग गई।

पुलिस प्रशासन ने यातायात को दुरुस्त करते हुए रायपुर से आने वाले वाहनों को चरमुड़िया से कुरूद तथा धमतरी से आने वाले वाहनों को सांधा से नहर बाईपास रोड से निकाला। यहां युवा कांग्रेस ने बैलगाड़ी पर रैली निकाली। इस दौरान दिल्ली में आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में कांग्रेस कार्यकर्ता भी पहुंचे और नारेबाजी की।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें