जंग की तैयारी / खतरा बढ़ा तो अब स्कूल, हॉस्टल और रैन बसेरा को मिलाकर दूसरा कोविड अस्पताल बनाने की तैयारी

If the danger increases, then preparations are made to build a second Kovid hospital by combining schools, hostels and night shelters
X
If the danger increases, then preparations are made to build a second Kovid hospital by combining schools, hostels and night shelters

  • जिला अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड में यूपीएस, मल्टी पैरामाॅनिटर, पल्स ऑक्सीमीटर, ईसीजी, एसी की जरूरत

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

धमतरी. जिला अब पूरी तरीके से कोरोना संक्रमण की कगार पर आ खड़ा है। आसपास के जिलों में लगातार मरीज मिल रहे हैं। शहर नेशनल हाईवे पर है ऐसे में संक्रमण का खतरा ज्यादा बढ़ गया है। प्रदेश में लगातार पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि होने के बाद जिले में दूसरा कोविड अस्पताल बनाने की तैयारी स्वास्थ्य विभाग ने शुरू कर दी है। 
यह अस्पताल जिला अस्पताल के बाजू रैन बसेरा के साथ स्कूल और हॉस्टल को मिलाकर बनाने का प्रस्ताव हैं। इस अस्पताल में मरीजों के लिए बेड, प्रसव कक्ष, पैथालॉजी और डॉक्टरों का कमरा भी होगा। पीडब्ल्यूडी के सब इंजीनियर एमडी पैकरा ने रैन बसेरा, शौचालय में कुछ परिवर्तन कर बैड तैयार कराए जाएंगे। शुक्रवार को प्राकलन तैयार कर सीईओ को रिपोर्ट दी गई है। इसके पहले बठेना अस्पताल को कोविड अस्पताल बनाया जा चुका है जहां 40 बिस्तर है।
कांकेर में मिला पॉजिटिव मरीज आया था धमतरी, 6 सैंपल भेजे गए
कोरोना संक्रमण को लेकर जिले में खतरा लगातार बढ़ रहा है, क्योंकि शुक्रवार को कांकेर में जो युवक कोरोना पॉजीटिव मिला है, वह बीते 16 मई यानी 5 दिन पहले बाइक से धमतरी आया था। बठेना अस्पताल में 2 विशेषज्ञ डॉक्टरों से संपर्क कर पत्नी के दस्तावेज दिखाए थे। चेंबर की 4 नर्सों के संपर्क में भी आया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सभी 6 लोगों के स्वॉब का सैंपल लेकर जांच के लिए एम्स भेजे हैं। जानकारी के मुताबिक कांकेर के कोरोना पॉजिटिव मरीज के संपर्क की जानकारी शुक्रवार को दोपहर करीब 4 बजे कांकेर स्वास्थ्य विभाग ने धमतरी सीएमएचओ डॉ. डीके तुर्रे को दी। नोडल अधिकारी डॉ. बीके साहू, सर्विलांस अधिकारी डॉ. विजय फूलमाली के साथ बठेना अस्पताल गए। सीएमएचओ डॉ. डीके तुर्रे ने बताया कि कांकेर में जिस युवक की पहचान कोरोना पॉजीटिव हुआ है, वे बीते 16 मई को बाइक से धमतरी आया था। बठेना अस्पताल के 2 डॉक्टर सहित 6 लोगों के संपर्क किया। सभी का स्वॉब सैंपल लेकर एम्स भेजे हैं। चूंकि जिला कोरोना संक्रमित मरीजों से घिर चुका हैं, इसलिए सभी को सावधानी बरतने कहा है। मेडिकल टीम के मैदानी अमले को भी सतर्क किया है।
जिला अस्पताल को इन सुविधाओं की जरूरत
कलेक्टर रजत बंसल ने 3 दिन पहले स्वास्थ्य विभाग के अफसरों की बैठक ली थी। उन्होंने बताया कि पड़ोसी जिलों में लगातार संक्रमित मरीज मिल रहे है। इसलिए उन्होंने जिला अस्पताल के पास 25 बिस्तर के नए वार्ड को सेंट्रल ऑक्सीजन सप्लाई के साथ तैयार करने निर्देश दिए। सीएमएचओ डॉ. डीके तुर्रे ने बताया कि एसएनसीयू वार्ड में यूपीएस सिस्टम, मल्टी पैरामाॅनिटर, पल्स ऑक्सीमीटर, ईसीजी मशीन, एसी और एक नई एम्बुलेंस की आवश्यकता है। कलेक्टर ने शासन को पत्र लिखने कहा।
जेल में अब एक बंदी से एक समय में एक सदस्य की मुलाकात होगी
जेल एवं सुधारात्मक सेवा के उप महानिरीक्षक ने 22 मई को प्रदेशभर के जेलों के लिए आदेश जारी किया। उन्होंने कहा है कि कोरोना संक्रमण का खतरा लगातार प्रदेश में बढ़ रहा है। सुरक्षा के लिहाज से जेलों में कराई जाने वाले मुलाकात में कड़ाई बरते। एक समय में एक बंदी से एक ही परिजन की मुलाकात कराई जाए। फिर सैनेटाइजेशन हो। सोशन डिस्टेंसिंग का पालन कराए। खिड़की, गलास पार्टीशन एवं इंटर काम उपकरण की जांच कराकर मरम्मत कराई जाए।
70 सैंपल लिए, 6 दिन से रुकी हैं 415 की रिपोर्ट
जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. विजय फूलमाली ने जिले के हालात की जानकारी देते बताया कि अब तक 886 सैंपल कलेक्शन हो चुका हैं। इनमें से केवल 471 की रिपोर्ट मिली हैं, जो सभी निगेटिव हैं। एम्स से 415 लोगों की रिपोर्ट अटकी हैं, जो 16 मई से नहीं मिली हैं। शुक्रवार को 70 सैंपल लिए हैं। रैपिड किट से 1053 लोगों की जांच की गई हैं। सभी सामान्य हैं। पथर्रीडीह में 57 व कुरूद में 14 लोग क्वारेंटाइन में हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना