पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धान खरीदी से पहले आपाधापी:टोकन कटाने सुबह 6 बजे से लगी किसानों की भीड़ प्रक्रिया नहीं बदली गई तो बढ़ेगा कोरोना का खतरा

धमतरी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ऑनलाइन काटे जाने थे टाेकन, आधी साेसायटियाें तक सॉफ्टवेयर ही नहीं पहुंचा इधर खरीदी केंद्रों में नहीं दिखा कोरोना का डर

एक दिसंबर से धान खरीदी शुरू हाेना है। इसके लिए शुक्रवार से आपाधापी के बीच टाेकन कटना शुरू हाे गए हैं। जानकारी के मुताबिक गुरुवार काे सीएम ने 27 नंवबर से से टाेकन कटने की बात कही थी। इसकी सूचना जैसे ही किसानाें काे मिली वे सुबह 6 बजे से धान खरीदी केंद्राें पर पहुंच गए। टोकन लेने की होड़ में अधिकतर धान केंद्राें पर किसानाें की खूब भीड़ रही। अव्यवस्था के बीच टाेकन कटना शुरू हुए। इस दाैरान काेराेना काे राेकने जरूरी साेशल डिस्टेसिंग व सैनिटाजेशन पीछे छूट गए। किसान अब सरकारी आपाधापी से परेशान है। 1 दिसंबर से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग में मौखिक रूप से आदेश दिया गया। अब तक जिले के अफसराें के पास लिखित आदेश नहीं आया है। खरीदी के लिए को मात्र 3 दिन ही बचे हैं। लेकिन तैयारी नजर नहीं आ रही। ऐसे में किसान भी परेशान हाे रहे हैं। किसान धान बेचने के लिए बेसब्र हैं। 27 नवंबर से टोकन कटने की जानकारी मिलते ही सोसायटियों में सुबह से आ गए थे। भीड़ में न सोशल डिस्टेंस का पालन हुआ और न ही सैनिटाइजेशन की व्यवस्था। टोकन काटने कई सोसायटियों में आदेश का इंतजार हो रहा था। किसानों की ऋण पुस्तिका जमा कराई गई। बाद में बैठक के बाद निर्णय लिया गया कि मैनुअल ही टाेकन दिए जाएं।

जिले में बारदानों की भी कमी
जिले में 70 लाख बारदाने की जरूरत है। शासन से 38.50 लाख नए बारदाने की मांग की थी, जिसमें से 27.50 लाख ही मिले। राइस मिलर्स से 37 लाख बारदाने, वहीं पीडीएस से 8 लाख 93 हजार बारदाने की व्यवस्था की जा रही। बारदाने की शार्टेज इस वर्ष रहेगी। अधिकारी प्लास्टिक बोरी से खरीदी होेने की बात कह रहे हैं।

तीन बार जारी होंगे टोकन
कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने शुक्रवार को छाती के उपार्जन केंद्र परिसर में समिति प्रबंधक, नोडल अधिकारियों की बैठक ली। प्रशिक्षण भी दिया गया। बताया कि किसानों को अधिकतम तीन बार ही टोकन जारी किए जाएंगे। टोकन जारी करने किसानों के खेत का रकबा का मिलान किया जाए। लघु किसानों को प्राथमिकता के आधार पर टोकन जारी किए जाएं।

लिखित आदेश नहीं मिला
जिला सहकारी बैंक के नोडल अधिकारी पीपी गोस्वामी ने कहा कि समर्थन मूल्य पर धान खरीदी 1 दिसंबर से 15 फरवरी तक की जानी है। अब तक खरीदी के लिए आदेश नहीं आया है। वीडियों​​​​​​ कांफ्रेंस में जानकारी देकर व्यवस्था करने कहा गया था। टोकन कटना शुरू हो गए हैं। शुक्रवार को मैनुअल काटे गए। जहां सॉफ्टवेयर पहुंचा है, वहां ऑनलाइन भी काटा जा रहा।

5500 गठान बारदाने ही मिले
डीएमओ केके देवांगन ने कहा कि जिले में धान खरीदी के लिए शासन से 7700 गठान बारदाने की मांग की गई थी, जिसमें से 5500 गठान बारदाने जिले को मिले हैं। नए बारदाने समितियों में पहुंचाए जा रहे हैं। पीडीएस व राइस मिलर्स से बारदाने की व्यवस्था की जा रही।

जिले में इतने किसानों ने कराया है पंजीयन, ये हैं हालात

  • किसानों का पंजीयन 1 लाख 11 हजार 397
  • 1 लाख 19 हजार 525 हेक्टेयर रकबे की होगी धान खरीदी
  • धान खरीदी के लिए 70 लाख बारदाने की जरूरत, नए 27 लाख मिले
  • पीडीएस से 8 लाख 93 हजार, राइस मिलर्स के 37 लाख बारदाने से खरीदी
  • रकबा का मिलान होने के बाद ही मिलेगा टोकन।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का अधिकतर समय परिवार के साथ आराम तथा मनोरंजन में व्यतीत होगा और काफी समस्याएं हल होने से घर का माहौल पॉजिटिव रहेगा। व्यक्तिगत तथा व्यवसायिक संबंधी कुछ महत्वपूर्ण योजनाएं भी बनेगी। आर्थिक द...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser