प्रदर्शन:किसानों का 28 से बेमुद्दत धरना 9 को जेल भरो आंदोलन करेंगे

धमतरीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • 1 नवंबर से प्रति एकड़ 24 क्विंटल धान खरीदी करने की मांग उठाएंगे

छत्तीसगढ़ किसान यूनियन की जिला शाखा धमतरी द्वारा मांगों को लेकर 28 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन किया जाएगा। संघ 8 मांगों को पूरा कराने के लिए मुख्यमंत्री के नाम से कलेक्टर को ज्ञापन दिया। संघ के जिलाध्यक्ष घनाराम साहू, सुदर्शन, लीलाराम साहू, महावीर साहू, उपेंद्र साहू ने बताया कि केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ से 40 प्रतिशत अधिक चावल खरीदने की सहमति दी है इसलिए खरीफ वर्ष 2020-21 में 24 क्विंटल प्रति एकड़ के अनुसार धान की खरीदी करनी चाहिए। 1 दिसंबर से समर्थन मूल्य पर खरीदी की जानकारी मिली है। दिसंबर महीने में खरीदी होने से सभी किसान धान नहीं बेच पाएंगे। धान रखने के लिए किसानों को परेशानी होगी। राज्य सरकार को दीपावली के पहले से ही खरीदी शुरू करनी चाहिए। कटाई के दौरान हो रही बारिश से किसानों को नुकसान हुआ है। घनाराम साहू ने कहा कि मांगों को लेकर प्रदर्शन करने के बाद यदि सरकार मांगों पर विचार नहीं करती या खरीदी 1 नवंबर से शुरू नहीं होती है तो सभी किसान प्रदर्शन कर जेल भरो आंदोलन करेंगे। 9 नवंबर को जेल भरो आंदोलन होगा। इसमें जिलेभर से किसान शामिल होंगे।

ये हैं किसानों की प्रमुख मांगें

  • 1 नवंबर से धान खरीदी शुरू करने व 24 क्विंटल प्रति एकड़ धान खरीदी की जाए।
  • खुले बाजार में केंद्र सरकार द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदने का कानून पारित करने व नीचे खरीदी करने पर दंड का प्रावधान किया जाए। {केंद्र सरकार के नए कानून काे वापस किया जाए।
  • वर्ष 2018-19 में जिन किसानों का कर्जा माफ नहीं हुआ उनका माफ किया जाए। {रबी सीजन में ओलावृष्टि से हुए फसल नुकसान का मुआवजा दिलाया जाए।
  • खरीफ के बारिश से फसल नुकसान का जल्द सर्वे कराकर मुआवजा राशि दिलाई जाए।
  • चुनावी घोषणा अनुसार दो साल की बोनस राशि दी जाए।
  • कृषि मोटर पंप का बिल माफ किया जाए।
खबरें और भी हैं...