पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्री-मानसून:बिजली कड़की ताे रात हाे गई गुलाबी, चलने लगीं हवाएं, बारिश भी हुई

धमतरी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बारिश से पहले खूब बिजली कड़की। आसमान गुलाबी नजर आया। रात 8:00 बजे की यह तस्वीर घड़ी चाैक की है। - Dainik Bhaskar
बारिश से पहले खूब बिजली कड़की। आसमान गुलाबी नजर आया। रात 8:00 बजे की यह तस्वीर घड़ी चाैक की है।

प्रीमानसून में तेज हवाओं के साथ बादल, बिजली व रुक-रुक कर हल्की बारिश शुरू हाे गई हैं। हालांकि अभी मानसून आने में करीब एक महीने का समय है इसके बावजूद मानसून के पहले हाेने वाली माैसम की हलचल तेज हाे गई है। शुक्रवार काे सुबह से आसमान साफ रहा। दाेपहर तक बादल चढ़ने लगे। बूंदाबांदी हुई। शाम काे चाराें ओर से काली घटाएं घिरकर आईं। शाम 7 बजे के बाद शहर सहित जिले में बारिश हुई। रुक-रुक कर तेज हवाओं के साथ बारिश का क्रम देर तक चलता रहा।

जानिए, अभी इसलिए हाे रही बारिश
एक चक्रवात उत्तर अंदरूनी कर्नाटक के ऊपर 0.9 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित है। साथ ही एक द्रोणिका उत्तर अंदरूनी कर्नाटक से दक्षिण केरल तक 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। एक चक्रवाती घेरा उत्तर मध्य मध्यप्रदेश के ऊपर 1.5 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। एक पूर्व-पश्चिम द्रोणिका उत्तर मध्य मध्यप्रदेश से पश्चिम बंगाल तक झारखंड होते हुए 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। एक द्रोणिका उत्तर मध्य मध्यप्रदेश से मराठवाड़ा तक 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक है। इस कारण माैसम में नमी अा रही है। बादल आ रहे हैं। बारिश हाे रही है।

अाज भी बिजली पानी व आंधी की उम्मीद
माैसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा के मुताबिक 8 मई को प्रदेश के एक-दो स्थानों पर हल्की वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गरज चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने तथा अंधड़ चलने की भी संभावना है।

खबरें और भी हैं...