पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना के साथ कालाबाजारी:रायपुर, दुर्ग में बाजार हुआ लॉक तो व्यापारियों की मुनाफाखोरी शुरू, सिर्फ एक पर 25 सौ का जुर्माना

धमतरी9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कलेक्टर ने दिए कार्रवाई के निर्देश लेकिन अफसर सिर्फ खानापूर्ति कर रहे

पड़ोसी जिले रायपुर, भिलाई-दुर्ग और राजनांदगांव जैसे बड़े शहरों में लॉकडाउन शुरू हो गया है। इसका फायदा शहर के अधिकांश चिल्हर और थोक किराना वाले उठा रहे है। वे 5 से 10 रुपए तक किराना सामान के दाम बढ़ाकर बेच रहे हैं। इसका खुलासा तब हुआ जब गुरुवार को जांच टीम ने बनियापारा स्थित धर्मेंद्र किराना स्टोर में छापामारी की। यहां आलू-प्याज 40 रुपए किलो तक बेचते व्यापारी काे पकड़ा गया। 2500 रुपए का जुर्माना लगाया।

जिले में 5 अप्रैल से 12 घंटे का नाइट कर्फ्यू शुरू हुआ। कलेक्टर जेपी मौर्य ने कहा कि अवैध भंडारण और ज्यादा दाम पर सामान बेचने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी। इसके लिए 6 विभाग के अफसरों को जिम्मेदारी दी। लेकिन अफसर सामान के भाव नियंत्रित नहीं कर पा रहे है। जांच के नाम पर खानापूर्ति हो रही। इसका फायदा किराना व्यापारी उठा रहे हैं। 80-90 रुपए प्रति किलो की अरहर दाल 120 से 150 रुपए किलो तक पहुंच गई है। आलू-प्याज सहित तेल, आटा की कीमतों में बढ़ोतरी कर दी है।

भाव नियंत्रण के लिए ये जिम्मेदार
कलेक्टर ने मुनाफाखोरी रोकने 6 अफसरों की टीम बनाई है। इनमें खाद्य निरीक्षक नरेश पीपरे, नायब तहसीलदार चन्द्रकुमार साहू, खाद्य सुरक्षा अधिकारी अक्षय सोनी, विधिक माप निरीक्षक कमल जैन, राजस्व उप निरीक्षक हेमंत नेताम, मंडी उप निरीक्षक ईश्वर राम कंवर शामिल हैं।

गोदामों की जांच की मांग
शहर में आलू-प्याज, दाल और आटा सहित अन्य सामान बड़ी मात्रा में भंडारण करके कुछ चिल्हर और थोक व्यापारियों ने रखा है, रायपुर, दुर्ग-भिलाई से सामान नहीं आने का हवाला देकर दाम बढ़ा रहे। लोगों ने गोदामों की जांच की मांग की है।

शाम 6 बजे से कर्फ्यू पर अमल नहीं
जिला प्रशासन ने कोरोना संक्रमण को रोकने नगरीय निकाय क्षेत्र में शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक 12 घंटे का नाइट कर्फ्यू लगाया है। यानी दुकानें इससे पहले बंद होनी चाहिए, लेकिन शहर में बाजार इसके बाद बंद हो रहे हैं। यहीं नहीं जिले में धारा 144 का उल्लंघन करने पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। कहीं राजनीतिक पार्टी के नेता भीड़ जुटा रहे हैं, तो कभी लोग बेवजह भीड़ लगा रहे हैं। भीड़ वाले इलाकों में अभी ढिलाई है।

नियमों का उल्लंघन

  • सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं हो रहा है।
  • दुकानों पर खुलने और बंद होने का समय लिखना कहा, लेकिन व्यापारियों ने इसका पालन नहीं किया।
  • मास्क पहनने के बाद ही ग्राहक को सामान देने कहा, पर ऐसा नहीं हाे रहा है।

केला 70 रुपए दर्जन अंगूर 150 रुपए किलो
पड़ोसी जिलों में हुए लॉकडाउन का असर सब्जी और फल बाजार में भी हो रही है। केला, अंगूर, सेव की कीमतें भी बढ़ गई हैं। सप्ताहभर पहले तक बाजार में 50 रुपए में डेढ़ दर्जन केले मिल रहे थे। अब 60 से 70 रुपए दर्जन में मिल रहे हैं। अंगूर 100 से 150 रुपए पहुंच गया है।

मुनाफाखोरों पर होगी सख्त कार्रवाई: कलेक्टर
कलेक्टर जेपी मौर्य ने कहा कि खाद्य सामान का अवैध भंडारण व निर्धारित शुल्क से अधिक दाम पर बेचने वाले व्यापारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। जांच टीम जमाखोरी और कालाबाजारी पर नजर रखे हैं। जिले में फिलहाल लॉकडाउन नहीं होगा। यदि लॉकडाउन की स्थिति बनती हैं, तो सब्जी व किराना की दुकान खोलने 2 घंटे की छूट दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें