पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शाम काे हुई कार्रवाई:पूर्व विधायक के घर को किराए पर लेकर 500 पेटी गुड़ाखू रखी, सील

धमतरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तहसीलदार की उपस्थिति में पंचनामा बनाया गया। - Dainik Bhaskar
तहसीलदार की उपस्थिति में पंचनामा बनाया गया।
  • सही जवाब नहीं मिला तो संबंधित के खिलाफ केस किया जाएगा
  • दिनभर मैनेजर से संपर्क करने में लगे रहे अफसर

शहर के दानीटोला स्थित गुड़ाखू गोदाम को प्रशासन ने सील कर दिया। भास्कर में प्रकाशित खबर के बाद अफसर सक्रिय हुए। दिनभर गाेदाम मैनेजर से संपर्क करने का प्रयास करते रहे। मैनेजर नहीं आया ताे अफसराें ने पंचनामा बनाकर गाेदाम काे सील किया है। अब यह प्रकरण एसडीएम के सामने जाएगा।

वहां से आगे की कार्रवाई हाेगी। जानकारी के मुताबिक यह मकान पूर्व विधायक का है। इसे रायपुर की सन एंड सन फर्म ने एक महीने के लिए किराए पर लिया है। सूत्राें के मुताबिक मकान मालिक से जानकारी छुपाकर गुड़ाखू की करीब 500 पेटियां रखी गईं थी। हर राेज बड़ी संख्या में गाेदाम के सामने गाड़ियाें में भरकर गुड़ाखू जाती रही। आधी बेच भी दी गई हैं। बुधवार काे विंध्यवासिनी मंदिर के पास पिकअप सीजी 05 डी 0462 में गुड़ाखू अवैध तरीके से बेची जा रही थी। निगम द्वारा 2000 जुर्माना वसूला गया था। गोदाम की तलाशी अफसरों ने ली।

अफसर बगैर कार्रवाई के वापस लौट आए। इस खबर काे भास्कर ने प्रमुखता से उठाया। इसके बाद तहसीलदार पवन ठाकुर, खाद निरीक्षक नरेश पीपरे सुबह से गुड़ाखू रखने वाले व्यक्ति जयप्रकाश शर्मा से संपर्क में लगे रहे। कई बार फोन किया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। देर-शाम को तहसीलदार, खाद निरीक्षक, नगर निगम की संयुक्त टीम ने मौके पर आकर पंचनामा बनाया। गाेदाम काे सील किया। अब मैनेजर के अाने पर अफसराें की इजाजत के बाद ही गाेदाम खुलेगी। मकान में करीब 12 लाख से अधिक का गुड़ाखू रखा: सूत्राें मुताबिक अफसरों ने जिस मकान को सील किया है, वहां करीब 280 पेटी गुड़ाखू रखा है। प्रति पेटी गुड़ाखू की कीमत 4400 रुपए है। इस हिसाब से 12 लाख 32 हजार रुपए का गुड़ाखू गोदाम में है। बताया गया कि इस मकान को हफ्तेभर पहले जयप्रकाश शर्मा ने मकान को किराये पर लिया है। करीब 500 पेटी से अधिक गुड़ाखू रखी गई थी। हर दिन सुबह बड़ी संख्या में गाड़ियों में गुड़ाखू बाहर भेजी जा रही थी। अवैध तरीके से विंध्यवासिनी मंदिर के पास गुड़ाखू बेचते पकड़ाने के बाद मामले का भंड़ाफोड़ हुआ।

मकान एक महीने के लिए था किराए पर
दानीटोला स्थित शीतला मंदिर के सामने पूर्व विधायक इंदर चोपड़ा का दो मंजिला मकान है। इस मकान के ऊपर उनका खेती संभालने वाला कर्मचारी अपने परिवार के साथ रहता है। नीचे का हिस्सा खाली था। रायपुर की सन एंड सन फर्म ने उनके भाई मोहन चोपड़ा से संपर्क किया था। एक महीने के लिए किराए पर मांगा। परिचित होने के कारण दस्तावेज नहीं देखे थे।

रिपोर्ट एसडीएम को दी जाएगी: तहसीलदार
तहसीलदार पवन ठाकुर ने बताया कि मकान में गुड़ाखू रखा है। कितनी मात्रा में है यह पता नहीं। जांच के लिए आए थे। मकान किराये पर लेने वाले जयप्रकाश शर्मा को फोन किया, लेकिन उससे कोई जवाब नहीं दिया। सुबह से शाम तक कई बार फोन किया गया। देर-शाम को मकान सील किया है। रिपोर्ट एसडीएम चंद्रकांत कौशिक को दी जाएगी। दस्तावेज मांगकर जांच की जाएगी। रिपोर्ट गलत मिलती है तो एफआईआर भी होगी।

किराए पर दिया था मकान: मोहन चोपड़ा
मोहन चोपड़ा ने बताया कि मकान किराये पर सन एंड सन फर्म रायपुर को एक महीने के लिए दिया था। मकान में गुड़ाखू रखने की जानकारी दी गई। परिचित होने के कारण ज्यादा जानकारी नहीं मिली।

खबरें और भी हैं...