समीक्षा:15वें वित्त की राशि पेयजल स्रोत के लिए करें खर्च, जरूरत पड़ने पर मिशन से लें

धमतरी17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कलेक्टर ने धमतरी ब्लॉक के अधिकारियों व पंचायत सचिवों की बैठक लेकर दिए निर्देश

15वें वित्त में मिले रुपए अब पानी पर खर्च किए जाएंगे। इसे स्कूल, आंगनबाड़ी, स्वास्थ्य केंद्र आदि में पेयजल उपलब्ध कराने के लिए खर्च किया जाएगा। जरूरत पड़ने पर जलजीवन मिशन का उपयाेग किया जाएगा। कलेक्टर पीएस. एल्मा ने बुधवार सुबह ब्लॉक स्तर के अफसराें एवं पंचायत सचिवों की बैठक लेकर जलजीवन मिशन सहित अन्य योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की।

इस दौरान कलेक्टर ने निर्देशित किया कि सभी गांवों एवं शासकीय भवनों जैसे स्वास्थ्य केन्द्र, स्कूल, आंगनबाड़ी आदि में पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करें। साथ ही यह भी कहा कि इसके लिए पंचायत अपने 15वें वित्त के मद का उपयोग करे। अगर संबंधित पंचायत में इसके लिए फण्ड कम है, तो जल जीवन मिशन के तहत मिली राशि का उपयोग करें। जनपद पंचायत कार्यालय धमतरी के सभाकक्ष में हुई बैठक में कलेक्टर ने कहा कि मिशन के तहत स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्र, स्वास्थ्य केन्द्र सहित शासकीय भवनों में पेयजल की उपलब्धता शासन की प्राथमिकता में शामिल है।

इसके तहत चल रहे कार्यों की गुणवत्ता की मॉनिटरिंग भी ब्लॉक स्तर के अधिकारियों को करनी होगी। आम लाेगाें को शुद्ध पेयजल की आपूर्ति करना बेहद महत्वपूर्ण विषय है। इसे लेकर राज्य एवं केन्द्र सरकार काफी गंभीर है। इसलिए इस बारे में कोताही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कलेक्टर ने आगे कहा कि लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा ग्राम स्तर कार्ययोजना तैयार कर विभिन्न योजना के जरिए यह कार्य किया जा रहा है।पेयजल योजनाओं की स्थापना के बाद उसके संचालन का दायित्व ग्रामों को ही दिया जाना है। इसलिए ग्राम से जुड़े ग्रामीण, जनप्रतिनिधि और कर्मचारी अपने संसाधनों को संरक्षित व सुरक्षित करें। इसके अलावा उन्होंने आयुष्मान भारत योजना तथा डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना के तहत पंजीयन कराने व कार्ड बनाने के लिए ग्रामीणों को प्रेरित करने, कोटवारों के माध्यम से नियमित रूप से मुनादी कराने के निर्देश पंचायत सचिवों को दिए।

अार्थिक रूप से कमजाेर लाेगों का डाटा एंट्री करें
अन्य पिछड़ा वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर लोगों का क्वांटिफाइएबल डाटा पोर्टल में जल्द और शत-प्रतिशत एंट्री कराने तथा राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के क्रियान्वयन के लिए पात्र ग्रामीणों से शीघ्र आवेदन लेने के लिए निर्देशित किया। इसके अतिरिक्त कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए टीके के दोनों डोज लगवाने के लिए ग्रामीणों को प्रोत्साहित व प्रेरित करने के भी निर्देश कलेक्टर ने दिए। बैठक में जिला पंचायत सीईओ प्रियंका महोबिया ने भी शासन की फ्लैगशिप योजनाओं का पंचायत स्तर पर समुचित क्रियान्वयन एवं प्रचार-प्रसार पर जोर दिया। बैठक में जनपद पंचायत के सीईओ., बीएमओ, एसडीओ पीएचई एवं आरईएस, पंचायत सचिव सहित अधिकारी उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...