पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नहीं लौट रहे गज:हाथियों को लुभा रही महुए की गंध, 3 दिन से कमार डेरा में जमे

धमतरी3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जंगल में सब्जी और गन्ना डालने के बाद भी सीतानदी की ओर नहीं जा रहा ओडिशा से आया 27 हाथियों का दल

गरियाबंद से होकर जिले के जंगल में हफ्तेभर पहले आया 27 हाथियों का दल नगरी ब्लॉक के जंगल में ही है। 3 दिन से हाथियों का दल संबलपुर और अमाली स्थित कमार डेरा के पास है। हाथियों को सीतानदी की ओर भेजने के लिए 4 टन सब्जी और 7 टन गन्ने भी जंगल में डाले गए। लेकिन हाथियों को महुए की गंध खूब भा रही है। हाथियों के दल में 11 छोटे हाथी भी हैं। दल को एक दंतैल हाथी लीड कर रहा है। वन विभाग के मुताबिक हाथियों का दल महुए की गंध के कारण लगातार कक्ष क्रमांक 371 और 372 में मंडरा रहा है। विभागीय अधिकारी घर पर महुए नहीं रखने की अपील ग्रामीणों से बार-बार कर रहे हैं। कुछ ग्रामीण अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। शाम ढलते ही लोग शराब पीकर खतरनाक क्षेत्र में में घुस जाते हैं। अपनी जान काे आफत में डाल रहे हैं। इस कारण वन विभाग के अफसर चिंतित हैं। लाेगाें काे गांव में ही राेकने के लिए पुलिस बल तैनात किया है। बैनर-पोस्टर भी लगाए गए हैं। सरगुजा से गजराज वाहन बुलाया है।

पड़ोसी जिले बालोद में है चंदा हथिनी का दल
साल 2020 में चंदा हाथियों का दल गरियाबंद से मगरलोड ब्लॉक होते हुए 2 बार धमतरी अाया था। पहली बार चंदा हाथियों का क्षेत्र में विचरण के बाद कांकेर से वापस लौट कर गरियाबंद चला गया था। डुबान में एक शिशु हाथी की मौत भी हुई थी। दोबारा सितंबर माह में फिर वह हाथियों का दल पहुंचा। कुछ दिनों तक डुबान क्षेत्र में रहने के बाद वह कांकेर होते हुए वर्तमान में बालोद जिले में विचरण कर रहे है।

महुए की गंध के कारण आगे नहीं बढ़ रहे: एसडीओ
बिरगुडी एसडीओ हरीश पांडेय ने बताया कि हाथियों का झुंड ने संबलपुर व अमाली के पास ही डटे है। महुए की गंध के कारण इस क्षेत्र से आगे भी नहीं बढ़ रहे है। सीतानदी की ओर भेजने के लिए सब्जी, गन्ने जंगल में डाले गए है। हाथी एक रात में करीब 30 से 40 किमी की दूरी तय करते हैं। रातभर में यह झुंड किस दिशा में आगे बढ़ेगा और कितनी दूर जाएगा, तय नहीं है।

हाथियों की चिंघाड़ से ग्रामीणों में दहशत
वन विभाग के अफसर हाथियों को सीतानदी की ओर भगाने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहे है, लेकिन महुए की गंध के कारण हाथियों का दल आगे ही नहीं बढ़ रहा है। करीब 3 दिन से हाथी कमार डेरा के पास ही है। हाथियों की चिंघाड़ से भी ग्रामीण डरे हुए है। हाथियों की निगरानी, ग्रामीणों की सुरक्षा के लिए 100 से अधिक वन विभाग के अधिकारी, कर्मचारी अलग-अलग शिफ्ट में ड्यूटी कर रहे है। डीएफओ सतोविशा समाजदार खुद मौके पर जाकर हाथियों की निगरानी करा रहीं हैं। ग्रामीणों को जागरूक कर रहे है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपके स्वाभिमान और आत्म बल को बढ़ाने में भरपूर योगदान दे रहे हैं। काम के प्रति समर्पण आपको नई उपलब्धियां हासिल करवाएगा। तथा कर्म और पुरुषार्थ के माध्यम से आप बेहतरीन सफलता...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...

  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser