हरेली का उल्लास:कुश्ती में दिखाए दांव, गेड़ी पर दाैड़े युवा

धमतरी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

8 अगस्त काे हरेली पर्व है। यह देश के अलग-अलग भागाें में अलग नाम से मनाया जाता है। छत्तीसगढ़ में इसे साल के पहले पर्व के रूप में जाना जाता है। इस त्याेहार पर लाेगाें में एक दिन पहले से ही उल्लास देखने काे मिल रहा है। हरेली आयोजन समिति धमतरी ने कार्यक्रम किया।

एक दिन पहले शनिवार को इस कार्यक्रम में खूब उल्लास देखने काे मिला। बालक बालिकाओं ने कुश्ती में दाव दिखाए व गेड़ी पर चढ़कर दाैड़ लगाई। शहर के गांधी मैदान पर हुई ओपन कुश्ती प्रतियोगिता में शहर के 28 बालक-बालिका पहलवानों ने एक-दूसरे को खूब पछाड़ा। करीब एक घंटे यह प्रतियोगिता हुई। इसके बाद गेड़ी दौड़ प्रतियोगिता हुई।

छत्तीसगढ़िया लजीज व्यंजन भी मिले
यहां छत्तीसगढ़ी व्यंजन का स्टॉल भी लगा। जननी संस्था की महिलाओं ने छत्तीसगढ़ी व्यंजन ठेठरी, खुरमी सहित अन्य व्यंजन बेचे। सांस्कृतिक कार्यक्रम में बच्चों ने छत्तीसगढ़ वेशभूषा में नृत्य किया। छत्तीसगढ़ी के कलाकार अमलेश नागेश व ओमी ओटी ने भी कार्यक्रम की प्रस्तुति दी। आयोजन स्थल गांधी मैदान दर्शकों से खचाखच भरा रहा।

कार्यक्रम में कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं
आयोजन के दौरान बड़ी संख्या में लोग जुटे लेकिन ज्यादातर लोगों ने मास्क तक नहीं लगाया था इसके अलावा लोग एक-दूसरे से चिपक कर खड़े दिखे। भास्कर अपील करता है कि ऐसे आयोजनों के साथ हर समय सभी को कोरोना गाइडलाइन का पालन करना चाहिए।

खबरें और भी हैं...