वट सावित्री / सुहागिनों ने 12 घंटे का निर्जला उपवास रखा फिर बरगद के 11 फेरे लगा मांगी परिवार की सुख-शांति

The Suhagins kept a 12-hour long fast, then sought 11 rounds of banyan peace and happiness for the family
X
The Suhagins kept a 12-hour long fast, then sought 11 rounds of banyan peace and happiness for the family

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

धमतरी. लॉकडाउन के बीच सुहागिनों ने शुक्रवार को वट सावित्री व्रत रखा। बरगद का पूजन कर  11 परिक्रमा करते हुए  कच्चे धागे को बरगद पेड़ पर बांधा। हर फेरे में पति की लंबी आयु की कामना की। महिलाओं ने करीब 12 घंटे निर्जला उपवास कर इस पर्व को उत्साह के साथ मनाया। 
बच्चे भी अपनी माताओं के साथ पूजा में शामिल होते नजर आए। कई बच्चे बाल्टी में पानी लेकर दौड़भाग कर रहे थे, तो कई पूजा की थाली पकड़े दिखे। शहर के रामसगरी गार्डन के पास, आमातालाब, जोधापुर वार्ड, सोरिद, जालमपुर, विंध्यवासिनी, पोस्ट आफिस सहित कुरूद, नगरी व मगरलोड ब्लॉक के ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं ने वट वृक्ष का पूजन किया।
निता चंदेल, नवीता तिवारी, ज्योति कश्यप, मीता चंदेल ने बताया कि दुल्हन की तरह सोलह शृंगार कर महिलाओं ने पूजन कर व्रत को पूरा किया। पूजा के बाद सुहागिनों ने सत्यवान और सावित्री की कथा सुनी। लॉकडाउन के कारण मंदिरों के पट बंद है, इसलिए वट वृक्ष (बरगद पेड)के नीचे सुबह से ही सुहागिनों की भीड़ लगी रही। हालांकि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा गया। पूजा के बाद सुहागिनों ने वट वृक्ष के 7, 11 व 21 बार परिक्रमा कर वट सावित्री की पूजा की।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना