कलेक्टर ने जिपं सीईओ को बनाया नोडल अधिकारी:ऑक्सीजन की उपलब्धता और जरूरत बताने बनाई गई टीम

धमतरी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या के बाद जिले के शासकीय अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग एवं आपूर्ति का विश्लेषण कर रिपोर्टिंग करने कलेक्टर जेपी मौर्य ने टीम बनाई है। जिला पंचायत सीईओ मयंक चतुर्वेदी इसके नोडल अधिकारी हैं।

कलेक्टर द्वारा जारी आदेश अनुसार सहायक परियोजना अधिकारी (मनरेगा) धरम सिंह सहायक नोडल अधिकारी, जिला अस्पताल के ऑक्सीजन प्लांट टेक्नीशियन प्रेमलाल प्रजापति को दल के तकनीकी सदस्य के तौर पर नियुक्त किया है। ग्रामीण यांत्रिकी सेवा उपसंभाग धमतरी शिवप्रसाद सिन्हा, कुरूद बीआर पाल, मगरलोड अश्विनी चतुर्वेदी और नगरी के आरएस नाग को दल के सदस्य में शामिल किया है।

आदेश में कहा गया है कि टीम में शामिल सभी का दायित्व है कि ब्लॉक स्वास्थ्य अधिकारी एवं एसडीएम से समन्वय स्थापित कर संबंधित ब्लाॅक में स्थित शासकीय अस्पतालों में कुल ऑक्सीजन बेड की संख्या, ऑक्सीजन बेड पर मरीजों की संख्या, उपलब्ध बिस्तरों की संख्या, उपलब्ध आॅक्सीजन सिलिंडर की संख्या, सिलिंडरों की अवधि एवं क्षमता, भविष्य की मांग एवं आपूर्ति का विश्लेषण कर नोडल अधिकारी को प्रतिदिन रिपोर्ट देंगे।

खबरें और भी हैं...