पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सफलता:तीन दोस्त बने खेल अधिकारी, महेंद्र को प्रदेश में पहला स्थान

धमतरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले से तीन छात्रों ने एक साथ खेल अधिकारी की परीक्षा पास की, तीनो एक ही स्कूल में साथ पढ़े

जिले से तीन छात्रों ने एक साथ सीजीपीएसएसी की ओर से आयोजित क्रीड़ा अधिकारी (उच्च शिक्षा विभाग) परीक्षा-2019 पास की है। तीनों खेल अधिकारी बन गए हैं। इनमें महेंद्र रजक को इन परीक्षा में पहला स्थान मिला है। बलराम गायकवाड़ को 28वां और चंद्रशेखर बांदे को 35वां स्थान मिला। यह तीनाें आपस में दाेस्त भी हैं। स्कूल काॅलेज में साथ पढ़े। साथ खेले और साथ साथ तीनाें खेल अधिकारी बने हैं। तीनों की दोस्ती नत्थूजी जगताप नगर पालिक निगम स्कूल में हुई। 11वीं में तीनों अलग-अलग विषय लेकर पढ़ाई कर रहे थे। स्पोर्ट्स में अधिक लगाव था। महेंद्र रजक वहां क्रीड़ा अध्यक्ष बने। खेल के साथ-साथ एक साथ पढ़ाई भी जारी रखी। स्कूल के बाद कॉलेज में भी साथ-साथ रहे। हमेशा खेल शिक्षक सीएम टेम्भुरकर से क्रीड़ा अधिकारी बनने की सलाह लेते रहे। कॉलेज की पढ़ाई के बाद उन्होंने पं रविवि से बीपीएड और एमपीएड किया। इसके बाद नेट, सेट परीक्षा क्वालीफाई की। तीनों दोस्त यहां से अलग-अलग हो गए। फिर भी एक-दूसरे से मोबाइल से जुड़े रहे। तीनों ने सीजीपीएससी की तैयारी की। वर्ष 2019 में क्रीड़ा अधिकारी (उच्च शिक्षा विभाग) पोस्ट निकली। परीक्षा दी और एक साथ सफल भी हुए। यह जिले का पहला मामला है, जब तीन दोस्त एक साथ खेल अधिकारी बन रहे हैं। सेवानिवृत्त प्राचार्य डाॅ. चंद्रशेखर चाैबे ने बताया कि काॅलेज में तीनाें मेधावी रहे हैं। काॅलेज व शहर के लिए यह उपलब्धि है। उन्हाेंने खुशी जताई है।

निजी स्कूल में नाैकरी की, तैयारी करते रहे
महेंद्र रजक ने बताया कि 6वीं कक्षा से ही स्पोर्ट्स के क्षेत्र में रुचि थी। लोगों को मैदान में खेलता देखता था। 6वीं की पढ़ाई शासकीय बालक स्कूल में की। 11वीं नत्थूजी जगताप स्कूल में पढ़ा। कॉलेज की पढ़ाई के बाद एक प्राइवेट स्कूल में जाॅब किया। नेट, सेट क्वालीफाई करने के बाद तेलंगाना में केंद्रीय विद्यालय में 2019 में चयन हुआ। इस बीच पीएससी की तैयारी जारी रखी। 10 विषय में स्वयं का नोट्स तैयार किए। इसी से ही रिवीजन किया। इंटरव्यू में गृह जिले से संबंधित प्रश्न ज्यादा पूछे।

गर्मी की छुटि्टयों में की मजदूरी, 35वीं रैंक अाई
चंद्रशेखर बांधे शहर के जालमपुर वार्ड निवासी हैं। उन्हें 35वीं रैंक मिली है। उन्होंने बताया कि 12वीं तक पढ़ाई नत्थूजी जगताप स्कूल में की। 5वीं में ही उन्होंने खेल के क्षेत्र में आगे बढ़ने की ठान ली थी। उनकी बुआ के बेटे स्पोर्ट्स टीचर थे। उन्ही से प्रेरणा मिली। खेल शिक्षक सीएम टेम्बुलकर प्रशिक्षण देते रहे। मां बैसाखिन बाई का निधन 2008 में और पिता दसरूराम बांधे का निधन 2012 में हो गया। भाइयों ने ही पाला।गर्मी की छुटि्टयों में भाईयों के साथ बोरा, पेंटर समेत अन्य काम करता था।

कबड्डी में रुचि थी खेल अधिकारी बने
तेलीनसत्ती निवासी बलराम गायकवाड़ ने 28वीं रैंक हासिल की है। उनकी रुचि शुरू से कबड्‌डी में थी। 9वीं कक्षा से खेल में भाग लेना शुरू किया। स्टेट, नेशनल में मेडल भी जीते। 12वीं तक नत्थूजी जगताप स्कूल में पढ़ाई की। पीजी कॉलेज और पं रविवि में पढ़े। 2017 में नेट क्वालीफाई किया। इसके बाद झारखण्ड में शासकीय खेल शिक्षक के पद पर नौकरी मिली। अभी वहीं पदस्थ हैं। इसी दौरान सीजी पीएससी की तैयारी की। पिता असवंत राम, माता सुरजोतिन बाई समेत परिवार व शिक्षकों का हमेशा साथ रहा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें