पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेत का खेल:दाे गुटों में बंट गया ट्रैक्टर यूनियन, दोनों अध्यक्षों में मारपीट, थाने में भी हाथापाई

धमतरी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोलियारी चौक पर उलझे ट्रैक्टर यूनियन के दोनों पक्ष, थाने में 3 पक्षाें पर काउंटर केस दर्ज

जिले में अवैध रेत खनन कमाई का बड़ा जरिया है। इससे नेता, अफसर, उद्याेगपति सभी कमाई कर रहे हैं अब ट्रैक्टर चालक भी अवैध कमाई में लग गए हैं। इसी अवैध कमाई के कारण ट्रैक्टर संघ दाे फाड़ हाे गया है। बुधवार काे यह दाेनाें पक्ष आमने-सामने हाे गए। दाेनाें गुटाें के अध्यक्षाें के बीच मारपीट हुई। थाने से अस्पताल तक उलझते रहे। दोनों अध्यक्षों के बीच कोलियारी के पास हुई हाथापाई में एक-दूसरे को लहुलूहान होने तक पीटा। एक के होंठ फटने से 4 टांके लगे हैं। पुलिस ने 3 एफआईआर की हैं। यह पूरा विवाद अमेठी और परसुली के पास महानदी से रेत के कारण होना माना जा रहा है। बुधवार को अवैध रेत निकालने बड़ी संख्या में महानदी के अंदर ट्रैक्टरों की लाइन लगी थी। सुबह करीब 10 बजे एक साथ 15 से 20 ट्रैक्टर अवैध रेत निकालकर सड़क पर अाए। कोलियारी-कलारतराई मार्ग पर ट्रैफिक जाम हो गया। बाइक सहित अन्य वाहन चालकों को आगे बढ़ने साइड नहीं दी जा रही थी। तभी कोलियारी निवासी बाइक चालक चुनेश साहू ने साइड मांगी तो ट्रैक्टर सीजी 05 एजे 4299 के चालक ने गाड़ी रोकी। उसकी पिटाई की। घटना के बाद धमतरी ट्रैक्टर यूनियन संघ अध्यक्ष पिंटू अग्रवाल व शहर-ग्रामीण ट्रैक्टर यूनियन संघ अध्यक्ष अशोक उदासी मौके पर गए। दोनों में हाथापाई हो गई। एक-दूसरे पर हमला कर दिया। पिंटू के होंठ फट गए। अशोक के सीने में चोट के निशान है। मारपीट की घटना के बाद कोलियारी चौक पर दोनों गुट के ट्रैक्टर यूनियन की भीड़ एकत्रित हो गई।

जानिए...किसने क्या कहा
मुझे जान से मारने की प्लानिंग थी: पिंटू अग्रवाल
ट्रैक्टर यूनियन संघ अध्यक्ष पिंटू अग्रवाल ने बताया मेरे कुछ ट्रैक्टर रेत लेकर आ रहे थे। मैं देखने गया था। अशोक उदासी ने अलग यूनियन बना लिया है। कोलियारी के पास मुझे रोका और अपने भाई कन्हैया उदासी के साथ हमला कर दिया। जान से मारने की याेजना के साथ हथियार भी लेकर आए थे।

पुरानी रंजिश के कारण की मारपीट: अशोक उदासी
अशोक उदासी ने बताया 3 महीने पहले शहर व ग्रामीण ट्रैक्टर यूनियन संघ बनाया। अध्यक्ष मुझे बनाया गया। नया यूनियन बनने से पिंटू अग्रवाल व पदाधिकारियों में मेरे खिलाफ गुस्सा था। महानदी से मेरे ट्रैक्टर निकल रहे थे। रास्ते पर रोक गुंडागर्दी की गई। पुरानी रंजिश को लेकर मुझ पर हमला किया।

3 पक्ष के खिलाफ काउंटर केस: टीआई
अर्जुनी टीआई उमेंद्र टंडन ने बताया पिंटू उर्फ महीप अग्रवाल की रिपोर्ट पर अशोक उदासी, कन्हैया उदासी पर और अशोक की रिपोर्ट पर महीप अग्रवाल, महेश साहू व एक अन्य पर केस दर्ज हुआ है। एक अन्य पक्ष चुनेश साहू की रिपोर्ट पर दो ट्रैक्टर चालक, मालिक दुर्गेश सतनामी सहित 7 पर केस हुआ है।

थाना परिसर में पुलिस को बीच-बचाव करना पड़ा
दाेपहर करीब 11 बजे ट्रैक्टर यूनियन के दोनों पक्ष सहित अन्य पदाधिकारी व सदस्य बड़ी संख्या में अर्जुनी थाने गए। यहां दोनों पक्ष के बीच दोबारा हाथापाई हो गई। विवाद बढ़ते देख टीआई उमेंद्र टंडन को अपने चेंबर से बाहर निकलकर बीच-बचाव करना पड़ा। दोनों पक्षों को शांत कराया। उन्होंने खून से सने पिंटू अग्रवाल और अशोक उदासी को जिला अस्पताल भेजा। इलाज के बाद डॉक्टरी रिपोर्ट के साथ दोनों पक्ष को वापस थाना लाया।

अफसरों की अनदेखी से खुलेआम रेत चोरी
कलेक्टोरेट से करीब 3 किमी दूर कोलियारी महानदी किनारे अमेठी, परसुली से राेज रेत चोरी हो रही। अफसरों की अनदेखी के कारण सरकार को राजस्व का नुकसान ताे हो ही रहा। अब यह फसाद का कारण भी बन रही है। हर दिन 100 से अधिक ट्रैक्टर महानदी के अंदर घुसकर रेत चोरी कर रहे। जिले में 4 महीने के अंदर रेत को लेकर 3 मारपीट की घटना सामने आई।

खबरें और भी हैं...