बॉडी फ्रीजर नहीं / पीएम के बाद 24 घंटे पॉलीथिन में लपेटकर रखे रहे दो शव

X

  • रक्तदान ग्रुप की एंबुलेंस से भेजे गए कोलकाता

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

धमतरी. शहर से 15 किलोमीटर दूर नेशनल हाईवे पर गागरा पुल के पास ट्रेलर ने कार को टक्कर मार दी थी। हादसे में कार सवार एनएमडीसी कर्मचारी रामा उर्फ रामानी हलधर की पत्नी बेबी हलधर व उसके भतीजे अमित की मौत हो गई। अर्जुनी पुलिस ने दोनों के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल के चीरघर लेकर आए। 
दोनों के शव का पीएम तो हो गया, लेकिन शव ले जाने परिजन नहीं थे इसलिए दोनों के शव पॉलिथीन से लपेटकर पोस्टमार्टम कक्ष में रखा दिए थे। 24 घंटे लाश मच्युरी में थी। शुक्रवार को देर शाम को रक्तदान एंबुलेंस ग्रुप प्रमुख शिवा प्रधान एक गाड़ी से दोनों मृतकों के साथ उसने गृह जिला कोलकाता भेजा।
अस्पताल को मिलेंगे दो बॉडी फ्रीजर: डॉक्टर
जिला अस्पताल में एक साथ कई शव आने और कभी-कभी लंबे समय तक शव रखने के लिए फ्रीजर की मांग लगातार हो रही थी। गुरुवार को अस्पताल में एक साथ 5 शव आए। इनमें से तीन के शव पीएम के बाद परिजन ले गए। दो शव गागरा के पास हुए सड़क हादसे के बाद लाए। सिविल सर्जन डॉक्टर एमएम मूर्ति ने बताया कि पहले बॉडी-फ्रीजर का आर्डर दिया जा चुका था। लॉकडाउन के कारण सप्लाई नहीं हो पा रहा था। दो फ्रीजर धमतरी के लिए निकल चुका है। हफ्तेभर में जिला अस्पताल आ जाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना