पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बदलती परंपराएं:फिंगेशवर में बेटियों ने दिया पिता की अर्थी को कंधा बड़ी बेटी ने दी मुखाग्नि, नगर का यह पहला मामला

फिंगेश्वर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नगर के सम्मानित नागरिक व भाजपा नेता डॉ. चंद्रशेखर हरित के ज्येष्ठ पुत्र लक्ष्मीकांत (46) की रायपुर एम्स अस्पताल में किडनी के इलाज के दौरान बीती रात मौत हो गई। मृतक का पखवाड़े भर से इलाज चल रहा था। उनका शव बुधवार को नगर पहुंचा। उनकी 4 बेटियां ही हैं, कोई बेटा नहीं है इसलिए 3 बेटियों ने अपने पिता को कांधा दिया तथा 22 साल की बड़ी बेटी प्रियंका हरित ने पिता के शव को मुखाग्नि दी। प्रियंका के बाद लीशा, श्रीजीत व भव्या की उम्र क्रमश: 18, 16 व 8 साल है। भव्या छोटी है इसलिए उसे इस दुखद पहलू से दूर रखा गया। नगर का यह पहला मामला

परिवार का मत-बेटे-बेटी बराबर हैं
लक्ष्मीकांत के छोटे भाई हरित पेशे से डॉक्टर हैं और उनके भी एक लड़का व एक लड़की है, इस नाते उनका बड़ा बेटा मुखाग्नि दे सकता था पर परिवार ने तय किया कि आधुनिक समाज में बेटे-बेटी में कोई फर्क नहीं है इसलिए मुखाग्नि बड़ी बेटी ही देगी। बेटियां भी इससे सहमत थीं। मिलनसार व मृदुभाषी लक्ष्मीकांत हरित की शव यात्रा में पूरा शहर उमड़ पड़ा था। उनकी मौत पर पूरे शहर में शोक व्याप्त था।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें