पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हाथ धोने के तरीके भी बताए:पर्यावरण को बचाने पौधे रोपकर उनकी देखभाल करें: प्राचार्य

फिंगेश्वर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

स्वच्छता पखवाड़ा के तहत शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला बिजली में छात्र-छात्राओं ने विद्यालय परिसर की सफाई कर पौधों में वर्मी खाद डाले। प्राचार्य पूरन लाल साहू ने छात्रों को शपथ दिलाते हुए शरीर की नियमित रूप से साफ सफाई करते हुए शाला परिसर को स्वच्छ बनाए रखने के लिए प्रेरित किया। हाथ धोने के तरीके भी बताए।

उन्होंने कहा कि हमारे हाथों में अनदेखी गंदगी छिपी होती है, जो किसी भी वस्तु को छूने, उसका उपयोग करने एवं कई तरह के दैनिक कार्यों के कारण होती है। यह गंदगी बगैर हाथ धोए खाद्य एवं पेय पदार्थों के सेवन से आपके शरीर में प्रवेश कर जाती है और विभिन्न बीमारियों को जन्म देती है अतः हमें हाथों को अच्छी तरह से साबुन से धोना चाहिए। उन्होंने पेड़ पौधों के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज पेड़ों की लगातार कटाई होने के कारण पर्यावरण असंतुलन हो गया है इसलिए सभी को पौधे लगाकर उनका संरक्षण करना चाहिए। दिनेश कुमार साहू व्याख्याता ने कहा कि जीवन में पेड़-पौधों का बहुत महत्व है। पेड़ हमें फल, फूल, छाया, औषधि के साथ शुद्ध ऑक्सीजन देती है। शिक्षक नकुल राम साहू ने कहा कि जनसंख्या को सुरक्षित रखने के लिए सभी को पौधरोपण करना चाहिए। इस मौके पर संस्था के प्राचार्य पूरन लाल साहू, व्याख्याता दिनेश कुमार साहू, विनय कुमार साहू, रेखा सोनी, गीतांजली नेताम, शिक्षक नकुल राम साहू, रुद्रप्रताप साहू, भृत्य आकाश सूर्यवंशी व छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...