पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गुजरा में हुआ खुला मंच कार्यक्रम:कोरोना में खेल बंद होने से बच्चे तनाव में, देखभाल करें

गरियाबंद7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्रामीणों को बाल अपराध रोकने के लिए किया जागरूक

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार व चाइल्ड लाइन इंडिया फाउंडेशन के सहयोग से लोक आस्था सेवा संस्थान गरियाबंद में संचालित चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 टीम द्वारा शुक्रवार को ग्राम गुजरा में खुला मंच कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के माध्यम से ग्रामीणों को बाल अपराध के संबंध में जानकारी देकर इसकी रोकथाम की अपील की गई। इस अवसर पर परियोजना समन्वयक महेंद्र दास मानिकपुरी ने कहा की कोविड-19 के प्रभाव से बच्चों के स्कूल, मनोरंजन के साधन खेल आदि पर बंदीसे होने के कारण बच्चों में तनाव की स्थिति बन गई है। बच्चों में हिंसा में वृद्धि हुई है। ऐसी स्थिति में माता-पिता का दायित्व है कि वह अपने बच्चे को समय दें व उनकी उचित देखभाल करें। बच्चों को किसी भी कार्य में लगाने की बजाय शिक्षा से जोड़ने की व्यवस्था करें। उन्होंने कहा हमें अपने बच्चों को सुरक्षित रखने के लिए छोटी-छोटी सावधानियां बरतने की जरूरत है। हमारे आसपास कोई भी अनजान व्यक्ति हमारे बच्चों को बहलाने फुसलाने की कोशिश करता है या उन्हें गलत तरीके से स्पर्श करता है, गलत नजरों से देखता है तो यह पॉक्सो कानून के दायरे में आता है। इसमें अलग-अलग अपराधों के लिए अलग-अलग दंड का प्रावधान है। इस तरह की कोई भी समस्या होने पर चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 पर फोन कर मदद ले सकते हैं। जिला सत्र न्यायालय के एडवोकेट फहद खान, जिला बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष केके शर्मा ने बाल विवाह व बाल श्रम निषेध कानून की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि चाइल्ड लाइन 0 से लेकर 18 साल तक की बच्चों की सुरक्षा संरक्षण एवं पुनर्वास में मदद करती है। चाइल्ड लाइन गरियाबंद की डायरेक्टर लता नेताम, सदस्य बलिराम निषाद, धनीराम बरेठ ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। अंत में ग्राम पंचायत गुजरा के सरपंच जालम सिंह दीवान ने कार्यक्रम की सराहना की।

बच्चों के सामने न करें गलत काम: तुलेश्वर
चाइल्ड लाइन काउंसलर तुलेश्वर साहू ने बताया कि काउंसिलिंग का उद्देश्य बच्चों के प्रकरण की गहराई तक पहुंच बनाना एवं बच्चों की मनोभाव स्थिति की पहचान करना है। बच्चे कच्ची मिट्टी के समान होते हैं। वे बड़ों के द्वारा किए गए गतिविधि को देखकर सीखते हैं। बच्चों के सामने कोई भी गलत काम न करें, क्योंकि बच्चे बड़ों का ही अनुशरण करते हैं।

कुर्सी दौड़ में यश व हरीश ने प्रथम स्थान प्राप्त किया
कार्यक्रम में बच्चों द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं खेलकूद का प्रदर्शन भी किया गया। कुर्सी दौड़ में यश कुमारी एवं हरीश दीवान ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। वहीं करण कुमार एवं कुमारी वेदिका हल्बा ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। सभी प्रतिभागियों एवं अन्य बच्चों को पेन देकर प्रोत्साहित किया गया। कार्यक्रम में उपसरपंच गंगाबाई ध्रुव, मितानिन संतोषी बाई, अमेरिका बाई, इंदिरा बाई, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मानबाई, ग्रामीण अध्यक्ष धर्मराज दीवान, भरत दीवान आदि थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें