पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ओजस्वी भाषण को याद किया गया:विवेकानंद ने भारतीय संस्कृति को अंतरराष्ट्रीय पटल पर रखा

गरियाबंद7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

स्थानीय शिशु मंदिर में शनिवार को भाजपा द्वारा दिग्विजय दिवस मनाया गया। इस अवसर संगोष्ठी आयोजित कर अमेरिका के शिकागो सम्मेलन में स्वामी विवेकानंद द्वारा दिए गए ओजस्वी भाषण को याद किया गया।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संघचालक गिरिशदत्त उपासने ने कहा कि 11 सितम्बर 1893 में अमेरिका के शिकागो शहर में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय धर्म सम्मेलन में स्वामी विवेकानंद ने अपने व्याख्यान से भारत का गौरव बढ़ाया था। मात्र दो मिनट के लिए मिले वक्तव्य अवधि में जब उन्होंने गम्भीरता से अमरीका के भाइयों और बहनों कहा, पूरा हाल तालियों से गूंज उठा। इसके बाद स्वामी ने लगातार एक घंटे तक सभा को संबोधित किया। उपासने ने बताया अपने ओजस्वी भाषण में विवेकानंद ने भारत की संस्कृति और विचारों को अंतर्राष्ट्रीय पटल पर रखा। इसके चलते पूरे विश्व में भारत को जानने की जिज्ञासा जागरूक हुई। भाजयुमो जिलाध्यक्ष डॉ. योगी माखन कश्यप ने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने अपने ओजस्वी व्याख्यान से भारत की आध्यात्मिक चेतना और सांस्कृतिक मूल्यों व भाईचारे की भावना से दुनिया को अवगत कराया।

खबरें और भी हैं...