पैरा एथलेटिक्स में 'प्रीति' दिखाएंगी दम:छत्तीसगढ़ की नेत्रहीन खिलाड़ी का दुबई के लिए चयन, फरवरी 2022 में होगी प्रतियोगिता; नेशनल लेवल पर जीत चुकी हैं 9 पदक

​​​​​​​गरियाबंद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ की 30 साल की खिलाड़ी प्रीति यादव का चयन दुबई में फरवरी 2022 में होने वाली पैरा एथलेटिक्स के लिए हुआ है। इसके अभ्यास के लिए वह 9 अक्टूबर को साई सेंटर बेंगलुरु के लिए रवाना हो रही हैं। प्रदेश में गरियाबंद में बहुत ही पिछड़े इलाके से फिंगेश्वर के बरभाठा की रहने वाली प्रीति जन्म से नेत्रहीन हैं और अब तक राष्ट्रीय स्तर पर 9 पदक जीत चुकी हैं।

प्रीति जिले की एकमात्र ऐसी दिव्यांग खिलाड़ी हैं, जिन्होंने साल 2011-12 से लेकर अब तक 10 सालों में राष्ट्रीय पैराएथलेटिक्स और सीनियर राष्ट्रीय पैरा एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में हिस्सा लेकर दौड़, लंबी कूद और गोला फेंक में पदक जीते हैं। उनकी इन उपलब्धियों को देखते हुए छत्तीसगढ़ के युवा एवं खेल कल्याण विभाग ने उन्हें साल 2020-21में शहीद पंकज विक्रम खेल सम्मान के लिए चयनित किया है।

प्रीति अभी BA फाइनल की स्टूडेंट, नेत्रहीन स्कूल में दे रहीं सेवाएं
प्रीति यादव ने बताया कि वह अभी BA अंतिम वर्ष की पढ़ाई कर रही हैं। इसके अलावा दो साल का विशेष शिक्षा में D.Ed. दृष्टि बाधित/ब्रेल लिपि से कर चुकी हैं। वह भारतीय पुनर्वास परिषद की पंजीकृत सदस्य हैं। फिलहाल 7 सालों से फॉर्चून नेत्रहीन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, करमापटपर बागबाहरा खुर्द में विशेष टीचर के रूप में स्वैच्छिक मानदेय पर अपनी सेवाएं दे रही हैं।

खबरें और भी हैं...