नारायणपुर में लगाया गया नाइट कर्फ्यू:एक तिहाई लोगों के साथ होंगे कार्यक्रम; बस्तर संभाग में अब तक 190 जवान संक्रमित, एक दिन में मिले 302 मरीज

जगदलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डमी फोटो - Dainik Bhaskar
डमी फोटो

छत्तीसगढ़ के बस्तर में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। कोरोना की तीसरी लहर में बस्तर संभाग में कुल 1270 एक्टिव मरीज हो गए हैं। इनमें अलग-अलग कैंप में तैनात 198 जवान भी हैं। सबसे ज्यादा सुकमा जिले में जवान संक्रमित मिल रहे हैं। पिछले सप्ताह भर से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। बस्तर संभाग के दंतेवाड़ा जिले में पिछले 2 दिनों से सबसे ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। यहां कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या अब 267 पहुंच गई है। बस्तर संभाग में एक दिन में कुल 302 मरीज मिले हैं।

इधर, नारायणपुर जिले में बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। कलेक्टर धर्मेश कुमार साहू ने आदेश भी जारी कर दिया है। नारायणपुर जिले में अब रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। हालांकि इस दौरान कुछ छूट भी दी गई है। कोरोना की तीसरी लहर के शुरुआत में नारायणपुर जिले में सबसे कम मरीज मिल रहे थे। लेकिन, अब एकाएक मरीजों की संख्या यहां बढ़ती जा रही है।

नारायणपुर में नाइट कर्फ्यू में ये यह छूट

  • कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए थोक व्यापार, सब्जी मंडी, लोडिंग-अनलोडिंग की अनुमति होगी।
  • पेट्रोल पंप, दवाई दुकान, दवाई की डिलीवरी, एम्बुलेंस प्रतिबंध से छूट होगा और पूर्ववत नियमित समय अनुसार संचालित रहेंगे।
  • होटल, रेस्टोरेंट, ढाबा, बेकरी आइटम, फूड कोर्ट और अन्य खाद्य संबंधी प्रतिष्ठान रात्रि 11 बजे तक संचालित होंगे। फूड की होम डिलीवरी 11 बजे तक की जा सकेगी।
  • नगरीय निकाय सीमा क्षेत्र के बाहर राष्ट्रीय राजमार्ग अथवा मुख्य सड़क मार्ग में स्थित ढाबे रात्रि 11 बजे के बाद भी ट्रक, बस एवं अन्य परिवहन वाहनों के लिए संचालित हो सकेंगे।

इस पर होगा प्रतिबंध

  • जिला अंतर्गत सभी प्रकार के धरना, रैली, जुलूस, सार्वजनिक/सामाजिक कार्यक्रम (विवाह एवं अन्त्येष्टि को छोड़कर) सांस्कृतिक/धार्मिक कार्यक्रम, खेलकूद, मेला-मंडई अथवा अन्य किसी प्रकार के सामूहिक कार्यक्रम आयोजित किया जाना प्रतिबंधित रहेगा।
  • कार्यक्रम स्थलों पर अधिकतम एक तिहाई क्षमता की अनुमति होगी और 100 से 200 व्यक्तियों के शामिल होने की स्थिति में एक दिन पूर्व निकटतम तहसील कार्यालय/थाना/नगरपालिका कार्यालय को सूचना दिया जाना अनिवार्य होगा।
  • कार्यक्रम में 200 व्यक्तियों से अधिक की उपस्थिति होने की स्थित में SDM की अनुमति लेना अनिवार्य है।
  • जिला अंतर्गत सभी शासकीय/अशासकीय शिक्षण संस्थान (जिसमें कोचिंग ट्यूशन संस्थान भी शामिल), आंगनबाड़ी केंद्र, पुस्तकालय, स्वीमिंग पूल बंद रहेंगे।
  • वैक्सीनेशन कार्य हेतु 15 से 18 साल के बच्चों को स्कूल परिसर में कोविड गाइडलाइन, फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए बुलाया जा सकता है।
  • कक्षाओं का संचालन ऑनलाइन माध्यम से किया जा सकता है। सार्वजनिक स्थलों में फिजिकल डिस्टेंसिंग के साथ मास्क का उपयोग किया जाना अनिवार्य होगा।

बस्तर जिले में अब तक 3 मौत
बस्तर जिले में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण से गुरुवार को एक युवक की मौत हुई है। जगदलपुर के धरमपुरा हाउसिंग बोर्ड के रहने वाले 35 साल के एक युवक ने दम तोड़ा है। इधर 5 दिनों में यह तीसरी मौत हुई है। इससे पहले भानपुरी और पुस्पाल की 2 महिलाओं ने दम तोड़ा था।

संभाग में 1270 एक्टिव केस

जिलागुरुवार को मिले संक्रमितकुल एक्टिव केस
बस्तर44239
कोंडगांव2379
दंतेवाड़ा78267
सुकमा32187
कांकेर54217
नारायणपुर2878
बीजापुर43203

​​​​​​​

खबरें और भी हैं...