CG-ओडिशा बॉर्डर पर पकड़ाया 15 लाख का गांजा:300 किलो गांजा की हो रही थी तस्करी, 2 तस्कर गिरफ्तार; पुलिस ने चेक पोस्ट लगाकर पकड़ा

जगदलपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

छत्तीसगढ़ के बस्तर में पुलिस ने एक बार फिर गांजा की एक बड़ी खेप पकड़ी है। छत्तीसगढ़-ओडिशा बॉर्डर पर लगभग 300 किलो गांजा के साथ 2 तस्करों को गिरफ्तार किया गया है। अलग-अलग समय में पुलिस ने यह कार्रवाई की है। दोनों तस्करों के पास से बरामद किए गए गांजा की कुल अनुमानित कीमत लगभग 15 लाख रुपए बताई जा रही है। गुरुवार को दोनों तस्करों को न्यायालय में पेश कर जले भी भेज दिया गया है। मामला नगरनार थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, पुलिस को सूचना मिली थी 2 तस्कर बोलेरो और एक ट्रक से भारी मात्रा में गांजा की तस्करी करने वाले हैं। मुखबिर की इसी सूचना के आधार पर नगरनार थाना प्रभारी बुधराम नाग के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई थी। तस्करों को पकड़ने के लिए पुलिस ने छत्तीसगढ़-ओडिशा बॉर्डर पर तारापुर गांव के पास मोबाइल चेक पोस्ट लगाया।

आने-जाने वाली वाहनों की तलाशी ली जा रही थी। इस बीच ओडिशा की तरफ से एक बोलेरो वाहन आई। जवानों ने बोलेरो की तलाशी ली जिसमें से लगभग 5.75 लाख रुपए का 115 किलो गांजा बरामद किया गया। जिसके बाद जवानों ने तस्कर देवेंद्र खिलो (24) को गिरफ्तार कर लिया।

बोलेरो से लगभग 5.75 लाख रुपए का 115 किलो गांजा बरामद किया गया।
बोलेरो से लगभग 5.75 लाख रुपए का 115 किलो गांजा बरामद किया गया।

ट्रक से बरामद हुआ 9.25 लाख का गांजा
मुखबिर की सूचना के आधार पर पुलिस लगातार चेकिंग कर ही रही थी। वहीं ओडिशा से आने वाले सभी ट्रकों की भी तलाशी ली जा रही थी। इस बीच एक ट्रक आई जिसकी तलाशी ली गई। ट्रक में सामानों के बीच तस्कर ने 185 किलो गांजा छिपा कर रखा हुआ था। जिसे जवानों ने बरामद कर लिया।

ट्रक से बरामद किए गए गांजा की कीमत लगभग 9.25 लाख रुपए बताई जा रही है। तस्कर किशुन उरांव (26) को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। यह तस्कर झारखंड का रहने वाला है। ओडिशा से गांजा लेकर झारखंड में इसकी तस्करी करने के लिए लेकर जा रहा था। नगरनार पुलिस अधीक्षक हेमसागर सिदार ने बताया कि दोनों तस्करों को जेल भेज दिया गया है।