नारायणपुर में खदान पर नक्सलियों ने हमला किया:डंडे से पीटकर एक मजदूर की हत्या की, 14 मजदूरों को बनाया बंधक; 6 वाहनों को किया आग के हवाले; पुलिस जवानों से चल रही मुठभेड़ हुई खत्म

जगदलपुर/नारायणपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मामला छोटे डोंगर थाना क्षेत्र का है। निको जायसवाल कंपनी की लौह अयस्क खदान में विकास कार्य के दौरान हमला हुआ।फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
मामला छोटे डोंगर थाना क्षेत्र का है। निको जायसवाल कंपनी की लौह अयस्क खदान में विकास कार्य के दौरान हमला हुआ।फाइल फोटो।

छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में शनिवार को नक्सलियों ने लौह अयस्क खदान में ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इसके बाद नक्सलियों ने एक मजदूर को डंडे सी पीटकर मौत के घाट उतार दिया है। जबकि 14 मजदूरों को बंधक बना लिया। हालांकि कुछ देर बाद मजदूर को छोड़ दिया गया है। नक्सलियों ने खदान में इस्तेमाल किए जा रहे 4 पोकलेन समेत 6 वाहनों में भी आग लगा दी। इसके बाद मौके पर पहुंचे पुलिस जवानों से मुठभेड़ हुई, जो करीब 2 घंटे बाद समाप्त हो गई है। मामला छोटे डोंगर थाना क्षेत्र का है। न

क्सलियों ने एक मजदूर को डंडे सी पीटकर मौत के घाट उतार दिया है।
क्सलियों ने एक मजदूर को डंडे सी पीटकर मौत के घाट उतार दिया है।

जानकारी के मुताबिक, अमदई घाटी इलाके में निको जायसवाल कंपनी की लौह अयस्क खदान है। यहां पर एरिया डेवलपमेंट कार्य किया जा रहा था। बताया जा रहा है कि शनिवार को अचानक बड़ी संख्या में नक्सली वहां पहुंच गए और गोलियां बरसाना शुरू कर दिया। इतना ही नहीं नक्सलियों ने एक मजदूर की डंडे सी पाटकर हत्या कर दी। घटना की पुष्टी नारायणपुर एसपी नीरज चंद्राकर ने की है।

बैकअप फोर्स मौके के लिए रवाना, IG सुंदरराज पी ने की पुष्टि

इसके पहले बस्तर IG सुंदरराज पी ने बताया था कि भारी संख्या में सुरक्षाबलों को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया है। नक्सलियों की माड़ डिवीजन ने वारदात को अंजाम दिया है। हालांकि, ज्यादा जानकारी जवानों से संपर्क होने के बाद ही मिल सकेगी। मजदूरों को बंधक बनाए जाने की बात जरूर आ रही है।

नक्सलियों ने इस तरह से 6 गाड़ियों में आग लगाई है।
नक्सलियों ने इस तरह से 6 गाड़ियों में आग लगाई है।

फोर्स की ओर से चलाया जा रहा है ऑपरेशन मानसून
बारिश के मौसम में ज्यादातर नक्सली एक ही जगह कैंप लगाकर रहते हैं। ऐसे में पुलिस को ऑपरेशन करने में आसानी होती है। ऐसे में फोर्स की ओर से एक जून से ऑपरेशन मानसून शुरू किया गया है। बस्तर IG सुंददराज पी ने करीब 2-3 साल पहले ही इसकी शुरुआत की थी। इस अभियान के तहत अब तक 65 से ज्यादा नक्सलियों को ढेर किया गया है।

  • 1 जून को कांकेर व कोंडागांव जिले के सरहदी क्षेत्र में हुई मुठभेड़ में जवानों ने 5-5 लाख रुपए के दो इनामी नक्सलियों को ढेर किया था।
  • 18 जून जगदलपुर-सुकमा बॉर्डर के चांदामेटा की मुठभेड़ में एक महिला नक्सली मंगली ढेर हुई थी।
  • 20 जून को नारायणपुर जिले के ओरछा के जंगलों में सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर में नक्सलियों के माड़ डिवीजन के 2 पुरुष माओवादियों को मार गिराया था।
  • 22 जून को केशलूर के पखनार बाजार गए गोपनीय सैनिक बुधराम की भरे बाजार में नक्सलियों ने हत्या की थी।
  • 27 जून को दंतेवाड़ा DRG के जवानों ने पोरदेम के जंगलों में 5 लाख रुपए के इनामी नक्सली संतोष को ढेर किया था।
  • 1 जुलाई को सुरक्षबलों की नक्सलियों के कांगेर घाटी एरिया कमेटी के साथ हुई मुठभेड़ में 3 लाख रुपए के एक पुरुष माओवादी जोगा को ढेर किया गया था।
खबरें और भी हैं...