पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हाट बाजार क्लीनिक योजना:11 महीने में 7 हजार ग्रामीणों का हुआ मुफ्त इलाज, जिले में 25 हाट बाजारों में क्लीनिक के माध्यम से दिया जा रहा लाभ

जगदलपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
साप्ताहिक हाट में ग्रामीणांे का इलाज करते डॉक्टर। - Dainik Bhaskar
साप्ताहिक हाट में ग्रामीणांे का इलाज करते डॉक्टर।

राज्य सरकार ने अक्टूबर 2019 से मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लीनिक योजना की शुरुआत की है जिससे ग्रामीणों को हाट-बाजार में रोजमर्रा की जरूरत के सामानों की खरीदारी के साथ-साथ स्वास्थ्य जांच की सुविधा मुफ्त मिलने लगी है। जिले के 25 हाट बाजारों में क्लीनिक के आयोजन से पिछले 11 महीने में जिले के दूरस्थ क्षेत्रों के ग्रामीणों को अगस्त माह तक 7 हजार 111 लोंगों को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिल चुका है।

ज्ञात हो कि ग्रामीण जीवन की आपा-धापी में स्वास्थ्य परेशानियों की तब तक अनदेखी करते हैं, जब तक समस्या बढ़ न जाए। जरूरी न हो तब तक लोग अस्पतापल नहीं पहुंचते। कई बार ऐसी लापरवाही कई गंभीर बीमारियों को बढ़ा देती है और उसका पता भी नहीं चल पाता। इसलिए राज्य सरकार लोगों तक स्वास्थ्य सुविधाओं की पहुंच को बढ़ावा दे रही है। सीएमएचओ डॉ डी राजन ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा प्रारंभ की गई मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लीनिक से लोगों तक स्वास्थ सुविधा की पहुंच के परिणाम आ रहे हैं।

जांच, उपचार, परामर्श के साथ दवाइयां मिल रही

जिले के 25 हाट-बाजारों में स्वास्थ्य विभाग द्वारा कैंप लगाकर ग्रामीणों को सर्दी, खांसी, बुखार, शुगर, ब्लड प्रेशर, मधुमेह, ग्रामीणों की मलेरिया की जांच, गर्भवती महिलाओं की जांच, नेत्र विकार सहित मौसमी बीमारियों का उपचार एवं चिकित्सा परामर्श दिया जा रहा है। इन शिविरों में ब्लड प्रेशर, खून जांच जैसी प्रारंभिक जांच की जाती है। गंभीर बीमारी का पता चलने पर चिकित्सक मरीज को आवश्यकतानुसार उच्च स्वास्थ्य केन्द्रों या अस्पतालों में भेजते हैं।

अब तक 58 हजार को मिल चुकी है सुविधा

मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना का संचालन करीब दो साल होने वाले हैं। इस बीच जिल के करीब 58 हजार ग्रामीणों का इलाज इस योजना के तहत किया गया है। योजना के संचालन में किसी प्रकार की गड़बड़ी नही ंहो इसके लिए करीब आधा दर्जन कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई है। सीएमएचओ ने ने कहा कि इस योजना का लाभ हर ग्रामीण को मिले इसके लिए इसके लिए जिले हर छोटे बड़े साप्ताहिक बाजार स्थल पर पहुंचकर ग्रामीणों का इलाज किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...