पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मामलों का निराकरण किया गया:लोक अदालत में 8 खंडपीठों ने 594 मामलों काे निपटाया

जगदलपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिला एवं सत्र न्यायालय में शनिवार को नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस दौरान अदालत में कुल लंबित 913 मामलों को शामिल किया गया था, जिसमें से मोटर दुर्घटना दावा के 13 मामलों पर फैसला सुनाते हुए पीड़ितों को 44.35 लाख रुपए का मुआवजा देने आदेश दिया गया। वहीं 45 आपराधिक, व्यवहारवाद के 13, चेक बाउंस के 9, पारिवारिक 17, जनोपयोगी सेवाओं का 1, श्रम न्यायालय के 16, राजस्व न्यायालयों के 362 मामलों का निराकरण किया गया।

कोरोना संक्रमण के दौरान थानों में दर्ज 92 मामलों सहित 26 मामलों का निपटारा आपसी सुलह-समझौते के आधार पर किया गया। सभी बैंकों, बीएसएनएल, नगर निगम के जलप्रदाय शाखा के कुल 1060 मामलों में से बैंकों के 2, बीएसएनएल के 4 मामलों पर फैसला सुनाया गया। तृतीय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश निधि शर्मा तिवारी की खंडपीठ ने दावे के 1 मामले को निराकृत किया। सीजेएम बलराम कुमार देवांगन की खंडपीठ ने कोविड के दौरान दर्ज 73 मामलों को वापस लिया।

एक ही परिवार पर लगे 3 आरोपों को भी किया खत्म
एक ही परिवार के तीन मामलों का भी निपटारा हुआ। महिला ने परिवार के सदस्यों के खिलाफ मारपीट की शिकायत की थी। इस पर तीनों ही मामलों पर फैसला सुनाते हुए राजीनामा के जरिए मामला खत्म किया गया।

खबरें और भी हैं...