पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कांस्टेबल राकेश्वर सिंह सुरक्षित:एक जवान बंधक, परिवार की अपील-छोड़ दें उन्हें, नक्सली बोले- छोड़ देंगे

जगदलपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जवान का परिवार। - Dainik Bhaskar
जवान का परिवार।
  • अपहरण के 72 घंटों बाद नक्सलियों ने बताया कि जवान उनके कब्जे में है

सुकमा-बीजापुर बॉर्डर के टेकलगुड़ा नक्सली मुठभेड़ के बाद नक्सलियों ने कोबरा-210 बटालियन के सीटी जीडी जवान राकेश्वर सिंह मनहास का अपहरण कर लिया हैं। वे पिछले 72 घंटों से नक्सलियों से चंगुल में फंसे हुए हैं। राकेश्वर ग्राम मेतेर, कोथियन, जिला जम्मू, जम्मू-कश्मीर के रहने वाले हैं। मुठभेड़ के बाद से अफसर उन्हें मिसिंग बता रहे थे।

लगातार उनकी तलाश के लिए अभियान चलाए जा रहे थे। इस बीच रविवार की दोपहर नक्सलियों के दक्षिण बस्तर डिवीजन कमेटी की ओर से जानकारी दी गई है कि जवान राकेश्वर सिंह उनके कब्जे में है और पूरी तरह से सुरक्षित है। नक्सलियों ने यह भी कहा है कि समय आने पर जवान को सकुशल छोड़ दिया जाएगा और अभी जवान पूरी तरह से सुरक्षित है। इसके अलावा नक्सलियों की ओर से कहा गया है कि बहुत जल्द जवान की सकुशल होने की पुष्टि के लिए एक फोटो भी भेजी जाएगी।

नक्सलियों की ओर से इस खबर के आने के बाद अफसरों से लेकर जवान के परिजन ने राहत की सांस ली है। इससे पहले जवान के परिजन ने नक्सलियों से अपील की थी कि राकेश्वर को छोड़ दिया जाए। जवान के अपहरण के अलावा नक्सलियों ने फोर्स के जवानों के लिए भी एक पर्चा जारी किया है। जिसमें उन्होंने जवानों से अपील की है कि वे किसी भी प्रकार के ऑपरेशन में शामिल न हों।

खासतौर पर ऑपरेशन प्रहार में तो बिल्कुल भी शामिल न हों। पर्चे में जवानों से कहा गया है कि वे सरकारी नौकरी छोड़कर जनयुद्ध में शामिल हो जाएं। इसके अलावा कहा गया है कि अभी तक बस्तर में हजारों युवाओं को फर्जी मुठभेड़ में मारा गया है।

राकेश्वर की पत्नी मीनू बोली शुक्रवार की रात को बात हुई तब कहा था ड्यूटी पर जा रहा हूं अभिनंदन को पाकिस्तान से लाये मेरे पति को भी ले आओ: इधर जवान राकेश्वर की पत्नी मीनू मनहास और बेटी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से अपील की है कि वे उनके पति को कैसे भी वापस लायें। उन्होंने कहा कि जैसे पाकिस्तान से अभिनंदन को रिहा कराया गया था वैसे ही उनके पति को रिहा करवा दिया जाए।

इसके अलावा मीनू ने बताया कि आखरी बार उसकी उनके पति से शुक्रवार की रात बात हुई थी तब राकेश्वर ने सिर्फ इतना कहा था कि वह ड्युटी पर जा रहे हैं और काम जल्द खत्म कर कल बात करेंगे। इसके बाद से उनकी कोई बातचीत नहीं हो पाई है। इसके अलावा मीनू ने बताया कि उनके पति का हाल ही में कोबरा बटालियन में एक्सटेंशन हुआ था।

उन्होंने कहा कि अभी तक अधिकारिक तौर पर उनके पति के संबंध में काई भी जानकारी उन्हें नहीं दी गई है। कंट्रोल रूम में फोन करने पर बस यही जवाब दिया जा रहा है कि जैसे ही कोई जानकारी आएगी आपको बता दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें