बस्तर के सफाईकर्मियों की रायपुर तक पदयात्रा:400 किमी सफर तय कर पहुंचेंगे राजधानी; नियमितीकरण की मांग को लेकर CM हाउस के बाहर देंगे धरना

जगदलपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अपनी  एक सूत्रीय मांग को लेकर बस्तर के स्कूल सफाईकर्मी राजधानी रायपुर के लिए पैदल निकले हैं। - Dainik Bhaskar
अपनी एक सूत्रीय मांग को लेकर बस्तर के स्कूल सफाईकर्मी राजधानी रायपुर के लिए पैदल निकले हैं।

छत्तीसगढ़ में बस्तर के सैकड़ों स्कूल सफाई कर्मचारी अपनी एक सूत्रीय मांग को लेकर राजधानी रायपुर तक पदयात्रा पर निकले हैं। जिन-जिन जिलों और शहरों से होकर सफाई कर्मचारी गुजर रहे हैं उन इलाकों के कर्मचारी भी इस पदयात्रा में शामिल हो रहे हैं। सफाई कर्मचारियों की यह पदयात्रा सुकमा जिले से शुरू हुई जो झीरम घाटी से होते हुए शुक्रवार को कांकेर पहुंची है। बताया जा रहा है कि ये शुक्रवार रात कांकेर जिले में विश्राम के बाद सुबह फिर से अपनी पदयात्रा जारी रखेंगे।

दरअसल, प्रदेश स्कूल सफाई कर्मचारी संघ के आह्वान पर नियमितीकरण की मांग को लेकर रायपुर में CM हाउस के बाहर सैकड़ों कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठेंगे। इस हड़ताल में शामिल होने बस्तर से भी सैकड़ों कर्मचारी 2-3 दिन पहले रायपुर के लिए निकले हैं। करीब 400 किलोमीटर की इस पदयात्रा में सफाईकर्मियों ने 250 किलोमीटर की दूरी तय कर ली है। वहीं 150 किलोमीटर की दूरी अगले 1 से 2 दिन के अंदर तय करने का लक्ष्य भी रखा है।

झीरम घाटी से कर्मचारी पदयात्रा करते हुए रायपुर की तरफ आगे बढ़े हैं।
झीरम घाटी से कर्मचारी पदयात्रा करते हुए रायपुर की तरफ आगे बढ़े हैं।

सफाई कर्मचारियों का कहना है कि छत्तीसगढ़ में चुनाव से पहले कांग्रेस ने सफाई कर्मचारियों के नियमितीकरण का वादा किया था। सरकार बने 3 साल हो चुके हैं, लेकिन फिर भी सरकार अपने वादों पर खरी नहीं उतरी है। छत्तीसगढ़ की सरकार को उनके वादों को याद दिलाने के लिए रायपुर जा रहे हैं। सफाई कर्मचारियों ने बताया कि 18 दिसंबर से वे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे हैं। धीरे-धीरे के अन्य जगहों से भी कर्मचारी रायपुर पहुंच रहे हैं।

खबरें और भी हैं...