कोरोना से मौत के आंकड़ों में अंतर:बस्तर के तीन जिलों में राज्य 503 मौतें बता रहा, जबकि जिले 541, बीजेपी बोली- मौत की सौदागर है कांग्रेस

जगदलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राज्य से जारी कोरोना के आंकड़ों व बस्तर के तीन जिलों से जारी आंकड़ों में बड़ा अंतर देखने को मिल रहा है। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
राज्य से जारी कोरोना के आंकड़ों व बस्तर के तीन जिलों से जारी आंकड़ों में बड़ा अंतर देखने को मिल रहा है। (फाइल फोटो)

बस्तर में कोरोना के मामलों में अब कमी आने लगी है। दोनों लहरों में संभाग के 3 जिलों के 541 लोगों की जान चली गई है। ये आंकड़े जिला स्तर से जारी स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में हैं, लेकिन राज्य स्तर से जारी बुलेटिन में मौतों के आंकड़े अब भी 503 ही हैं। बस्तर के 3 जिलों से जारी बुलेटिन से अब ये बात स्पष्ट हो गई है कि कोरोना की दोनों लहरों में अब तक 541 लोगों ने दम तोड़ दिया है। यही स्थिति संक्रमित मरीजों के आंकड़ों में भी है। राज्य व जिलों के बीच आंकड़ों का यह बड़ा अंतर भी कई सवाल खड़े कर रहा है। इधर बीजेपी ने आंकड़ों के बड़े अंतर पर कांग्रेस सरकार को मौत की सौदागर सरकार बताया है।

जगदलपुर में 29 लोगों की मौत का जिला बुलेटिन में ज़िक्र ही नहीं

जगदलपुर जिला प्रशासन द्वारा जारी मीडिया बुलेटिन में अब तक 19,819 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं, जबकि राज्य से जारी आंकड़ों में मरीजों की संख्या 20328 है। इन दोनों आंकड़ों में लगभग 509 मरीजों का अंतर आ रहा है। इधर राज्य ने कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 19760 बताई है। लेकिन जिला प्रशासन द्वारा जारी आंकड़ों में कुल 19388 मरीज ठीक हुए हैं। दोनों मीडिया बुलेटिन में 372 मरीजों का बड़ा अंतर है। यही अंतर मौतों केे आंकड़ों का भी है। जिला प्रशासन 216, जबकि राज्य ने अब तक 187 मौत होना बताया है। इसमें भी लगभग 29 मौतों के आंकड़ों का फर्क देखने को मिल रहा है।

कोंडागांव में 5 का अंतर

कोंडागांव जिला प्रशासन ने अब तक 12594 लोगों का संक्रमित व 11987 लोगों का ठीक होना बताया है। लेकिन राज्य के आंकड़े ने जिले के आंकड़ों को भी पीछे छोड़ दिया है। राज्य के अनुसार कोंडागांव जिले में अब तक कुल 12822 लोग संक्रमण की चपेट में आए हैं, जबकि 12615 लोगों के ठीक होने का दावा भी किया गया है। वहीं जिला प्रशासन ने 102 लोगों की मौत होना बताया है, लेकिन राज्य ने 97 मरीजों की मौत का जिक्र किया है। कोंडागांव जिले में मौतों के आंकड़ों में 5 का अंतर देखने को मिल रहा है।

कांकेर में कोरोना से 4 मौतों का अंतर

कांकेर जिले में भी कुछ यही स्थिति बनी हुई है। जिला प्रशासन द्वारा जारी किए गए मीडिया बुलेटिन में कोरोना से अब तक 223 मरीजों की मौत होना बताया गया है, लेकिन यहां राज्य ने 219 मरीजों की मौत का आंकड़ा जारी किया है। अब इन दोनों आंकड़ों में 4 मौतों का अंतर है। जिला प्रशासन के अनुसार अब तक 22919 लोग कोरोना संक्रमित व 22587 लोग ठीक हुए हैं। लेकिन राज्य के बुलेटिन में 23177 लोगों का संक्रमित तो वहीं 22806 लोगों के ठीक होने का आंकड़ा जारी किया है।

पूर्व मंत्री केदार बोले - सरकार है मौत की सौदागर

छत्तीसगढ़ के पूर्व केबिनेट मंत्री केदार कश्यप ने इस मामले पर कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाते हुए सरकार को मौत का सौदागर कहा है। केदार ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कोरोना के फैलने की सबसे बड़ी वजह सरकार खुद है। इन्होंने क्रिकेट मैच कराया और कोरोना फैलाया, लोगों की जान के साथ खेला है। अब सरकार डर रही है, मौतों का खुलासा करने के लिए। इसीलिए लगातार आंकड़े छुपाए जा रहे हैं।

इधर इस मामले पर राज्य कोविड कमांड एवं कंट्रोल सेंटर के इंचार्ज सुभाष मिश्रा ने कहा कि जिले के अनुसार जो आंकड़े दिए जाते हैं, उन्हीं के अनुसार राज्य मीडिया बुलेटिन तैयार होते हैं। आंकड़ों में अंतर क्यों आ रहा है, इसे चेक करेंगे।

खबरें और भी हैं...