पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना एक दर्द अनेक:बेटी की कोरोना से मौत, नहीं आ सके माता-पिता

जगदलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्थानीय मुक्तिधाम में जिला प्रशासन की टीम ने रेडक्रॉस के उपाध्यक्ष अलेक्जेंडर चेरियन के नेतृत्व में 31 साल की एक युवती के शव का अंतिम संस्कार किया। जिस युवती का अंतिम संस्कार किया गया है उसने कोरोना पॉजिटिव होने के बाद दम तोड़ा था और पिछले दो दिनों से उसकी लाश मरचुरी में रखी हुई थी।

अलेक्जेंडर चेरियन ने बताया कि जिस युवती की मौत हुई है वह मूलत: भाटापारा की रहने वाली है। कुछ दिनों पहले वह गीदम में रहने वाले अपने रिश्तेदारों के घर आई थी। इस बीच वह पॉजिटिव हुई तो उसे इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया। दो दिनों पहले युवती ने दम तोड़ दिया। परिजनों और रिश्तेदारों तक इसकी जानकारी पहुंचाई गई तो पता चला कि युवती के माता-पिता भाटापारा में हैं और बेहद बुजुग हैं वे अपनी बेटी की लाश को लेने नहीं आ सकते और न ही अंतिम संस्कार में आ सकते हैं।

अंतिम संस्कार दिखाते समय नेटवर्क खराब हुआ
इधर जिला प्रशासन युवती के माता-पिता को अपनी बेटी के अंतिम संस्कार की प्रक्रिया लाइव दिखाने की व्यवस्था फोन पर की थी। अंतिम संस्कार जब शुरू हुआ तब वीडियो कॉल भी लगाया गया लेकिन भाटापारा में परिजनों का मोबाइल नेटवर्क ठीक नहीं होने से वीडियो कॉल से लाइव नहीं हो पाया।

खबरें और भी हैं...