आराध्य देवी के मंदिर में उमड़ी भक्तों की भीड़:नए साल में मां दंतेश्वरी के दर्शन करने दूसरे राज्यों से भी पहुंचे श्रद्धालु; सुबह से लगी रहीं लंबी कतारें

जगदलपुर6 महीने पहले

नए साल के पहले दिन बस्तर की आराध्य देवी मां दंतेश्वरी के मंदिर में हजारों श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। दूर-दराज से भक्त माता रानी के दर्शन करने कर लिए पहुंचे। सुबह से ही मंदिर के गर्भगृह से लेकर जयस्तंभ चौक तक माता के भक्तों का तांता लगा रहा। नए साल के पहले दिन अनेको मनोकामना लिए भक्त माता के दरबार आए। चैत्र और शारदीय नवरात्रि के बाद नए साल का पहला दिन ही ऐसा होता है जब माता के दरबार में एक साथ हजारों श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती है।

माता दंतेश्वरी।
माता दंतेश्वरी।

छत्तीसगढ़ के पड़ोसी राज्य ओडिशा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और महाराष्ट्र के नागपुर से भी श्रद्धालु माता के दर्शन करने पहुंचे। श्रद्धालुओं ने कहा कि, माता के प्रति उनकी बड़ी आस्था है। मां दंतेश्वरी सब की मुराद पूरी करती हैं। नया साल खुशियों से भरा रहे और कोरोना जैसी महामारी से लोगों को जल्द निजाद मिले इसी मनोकामना के साथ आराध्य देवी के दर्शन के लिए पहुंचे हैं। इधर, मां के दर्शन करने घुटने के बल भी कुछ श्रद्धालु पहुंचे थे।

घुटने के बल भी भक्त माता रानी के दर्शन के लिए पहुंचे थे।
घुटने के बल भी भक्त माता रानी के दर्शन के लिए पहुंचे थे।

खिचड़ी भोग और महुआ लड्डू प्रसाद का हुआ वितरण
मां दंतेश्वरी के मंदिर आए श्रद्धालुओं ने खिचड़ी भोग और महुआ लड्डू का प्रसाद भी लिया। बता दें कि माता के मंदिर में खिचड़ी भोग का वितरण कई सालों से किया जा रहा है, लेकिन महुआ लड्डू का प्रसाद हाल ही में मिलना शुरू हुआ है। एक पैकेट महुआ लड्डू की कीमत 200 रुपए है। अन्य प्रदेशों से पहुंचे लोग महुआ लड्डू का प्रसाद लेने अपनी जबरदस्त रुचि दिखा रहे हैं।

मंदिर के प्रवेश द्वार के सामने भक्तों की लंबी कतार लगी रही।
मंदिर के प्रवेश द्वार के सामने भक्तों की लंबी कतार लगी रही।

दुकानदार बोले- आमदनी अच्छी हुई
मां दंतेश्वरी के मंदिर के बाहर नारियल और श्रृंगार की दुकान लगाने वाले दुकानदारों ने कहा कि शारदीय नवरात्र के बाद यह पहला मौका था कि उनकी अच्छी खासी आमदनी हुई है। कोरोना महामारी की पहली और दूसरी लहर में मंदिर बंद था। इसलिए हमारी दुकान भी बंद थी। लेकिन साल 2022 के पहले दिन मंदिर में अच्छी खासी भीड़ उमड़ी तो हमारी दुकानदारी भी अच्छे से चली। साल का पहला दिन हमारे लिए अच्छा रहा।

खिचड़ी और महुआ लड्डू प्रसाद लेने के लिए लोगों की भीड़ जुटी।
खिचड़ी और महुआ लड्डू प्रसाद लेने के लिए लोगों की भीड़ जुटी।