पिछले साल भी फीस के लिए बनाया था दबाव:फीस भरने पालकों पर बना रहे दबाव जनरल प्रमोशन रोकने की दी चेतावनी

जगदलपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वार्षिक परीक्षाओं का दौर स्कूलों में शुरू हो गया है। निजी स्कूलों में ऑनलाइन परीक्षाएं ली जा रही हैं। इसके साथ ही स्कूल प्रबंधनों ने फिर से पालकों पर फीस जमा करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया है। पिछले साल भी परीक्षा के दौरान ऐसी स्थिति बनी थी, जिस पर पालकों ने विरोध भी जताया था, लेकिन स्कूल प्रबंधनों ने स्पष्ट रूप से फीस जमा न करने के हालात में जनरल प्रमोशन न देने की चेतावनी दी थी। इसकी शिकायत भी कलेक्टर से की गई थी, लेकिन कोई भी राहत पालकों को नहीं मिली। कमोबेश यही परिस्थितियां इस साल भी बन रही हैं।

स्कूल से फोन- फीस जमा करो, नहीं तो रोकेंगे नतीजे

एक निजी स्कूल में अपने बच्चों को पढ़ाने वाले पालक ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि उन्हें स्कूल की तरफ से फोन आया और कहा गया कि 3 महीनों की फीस बकाया है। अगर वे फीस जमा नहीं करवाते हैं तो बच्चों के नतीजे रोक लिए जाएंगे और जनरल प्रमोशन का फायदा भी बच्चों को नहीं दिया जाएगा। शहर के एक और निजी स्कूल के पालक ने भी यही शिकायत की है। लॉकडाउन के बाद पालक कलेक्टर से मिलने की तैयारी कर रहे हैं।

निजी स्कूलों में ऑनलाइन ही ले लिए गए होम एग्जाम

अधिकांश स्कूलों में होम एग्जाम खत्म हो चुके हैं। वहीं बोर्ड की परीक्षाएं ही बाकी रह गई हैं, जिसमें दसवीं की परीक्षा तो रद्द कर दी गई है, वहीं बारहवीं की परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया है। मूल्यांकन वर्क फ्रॉम होम के तहत दिया गया है।

फीस वसूलने नहीं बना सकते दबाव- डीईओ

जिला शिक्षा अधिकारी भारती प्रधान ने कहा है कि कोई भी स्कूल प्रबंधन इस कोविड काल में पालकों पर फीस जमा करने दबाव नहीं बना सकता। गाइडलाइन का पालन नहीं करने वाले स्कूल प्रबंधनों के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी।

खबरें और भी हैं...