डॉक्टरों के तबादले पर भाजपा की सियासत शुरू:पूर्व सांसद बोले- यदि चिकित्सकों को भेजा गया तो देंगे धरना, CM और स्वास्थ मंत्री के बीच कुर्सी का सौदा

जगदलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जगदलपुर में भाजपा ने प्रेस वार्ता ली। - Dainik Bhaskar
जगदलपुर में भाजपा ने प्रेस वार्ता ली।

छत्तीसगढ़ के बस्तर के डिमरापाल मेडिकल कॉलेज (मेकाज) के 8 डॉक्टरों का प्रमोशन के साथ तबादला हो गया है। डॉक्टरों के तबादले की जानकारी मिलते ही भाजपा के कार्यकर्ताओं ने विरोध करना शुरू कर दिया। भाजपा का कहना है कि मेडिकल कॉलेज में बस्तर संभाग के पूरे 7 जिलों का लोड है। यहां वैसे भी डॉक्टरों की कमी बनी हुई है और अब 8 डॉक्टरों का तबादला करने से मेकाज की स्वास्थ व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा जाएगी। पूर्व सांसद दिनेश कश्यप ने कहा कि, जिन डॉक्टरों के तबादले का आदेश हुआ है यदि वो निरस्त नहीं किया जाता है तो भाजपा धरने पर बैठ जाएगी।

दिनेश कश्यप ने कहा कि, क्षेत्र फल की दृष्टि से बस्तर संभाग काफी बड़ा है। यहां की गरीब आदिवासी जनता अन्य बड़े शहरों या फिर पड़ोसी राज्यों के बड़े अस्पतालों में जाकर इलाज करवाने में सक्षम नहीं है। बड़ी मुश्किल से मेकाज की स्थित सुधरी है। मेकाज में अभी कई दर्जनों विशेषज्ञ डॉक्टरों की आवश्यकता है। उनकी भर्ती करने की बजाए यहां जो डॉक्टर सेवा दे रहे हैं उनका ही तबादला कर दिया गया है। दिनेश कश्यप ने छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार को भी घेरा है। उन्होंने कहा कि, CM और स्वास्थ मंत्री के बीच कुर्सी की लड़ाई चल रही है। ढाई-ढाई साल के लिए दोनों के बीच कुर्सी का सौदा हुआ था।

यही वजह है कि दोनों के बीच तकरार चल रहा है। दोनों एक दूसरे की सुनते नहीं हैं। पूर्व सांसद ने बताया कि भाजपा ने मेडिकल कॉलेज में अतिरिक्त ICU की भी मांग की है। लेकिन अब तक मांग पूरी नहीं हुई है। इस सरकार से कुछ उम्मदी नहीं है। मेडिकल कॉलेज में काम करने वाले सैकड़ों कर्मचारियों को भी निकाल दिया गया है। उनके सामने भी रोजी- रोटी का संकट आ गया है। सरकार को सभी संविदा कर्मचारियों को वापस नौकरी में रखना चाहिए।

मेकाज में इतने डॉक्टरों की है कमी
मेकाज में अलग-अलग डिपार्टमेंट में करीब 115 विशेषज्ञ डॉक्टर होने चाहिए। लेकिन सिर्फ 67 विशेषज्ञ डॉक्टर ही हैं। ऐसे में यहां अभी 48 विशेषज्ञ डॉक्टरों की कमी बनी हुई है। इस कमी के साथ ही कांकेर और महासमुंद के मेडिकल कॉलेज को चलाने के लिए यहां से विशेषज्ञ डॉक्टरों का तबादला किया जा रहा है। हाल ही में हुए तबादले में 8 डॉक्टरों में 2 को महासमुंद और 6 को कांकेर भेजा गया है। इनमें से डॉ सुरजीत सिंह, डॉ इंदु शर्मा, डॉ धन्नूराम मंडावी, डॉ दीपक कुमार, डॉ कमलेश कुमार ध्रुव समेत एक अन्य का कांकेर के मेडिकल कॉलेज में तबादला किया गया है। जबकि डॉ नित्या ठाकुर और डॉ अनिल कुमार सिंह को महासमुंद भेजा गया है।

खबरें और भी हैं...