एटीएम मशीन चोरी मामला:एटीएम के पैसे गबन करने वाला चौथा आरोपी भी गिरफ्तार, आज बड़े खुलासे की उम्मीद

जगदलपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एटीएम मशीन में पैसे न डालकर इसे गबन करने के मामले में चौथे आरोपी की गिरफ्तारी पुलिस ने रविवार को कर ली है। पुलिस ने चौथे आरोपी मंजूर रजा की गिरफ्तारी के लिए एक स्पेशल टीम का गठन किया था। इसी टीम ने मंजूर को रविवार देर शाम गिरफ्तार कर थाने लेकर आई।

मंजूर की गिरफ्तारी की पुष्टि एसपी जीतेंद्र मीणा ने भी की है। ऐसा माना जा रहा है कि सोमवार को इस मामले में पुलिस और भी बड़े खुलासे करेगी। गौरतलब है कि सीएमएस कंपनी की ओर से पुलिस को शिकायत मिली थी कि कंपनी द्वारा एटीएम मशीन में जो रकम डालने के लिए कर्मचारियों को दी गई है वह पूरी रकम मशीन में नहीं डाली गई है। इसके बाद पुलिस ने शनिवार को ही तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था और गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने खुलासा किया था कि योगेश यादव और कैलाश यादव दोनों सीएमएस कंपनी के कस्टोडियन हैं, जो प्रतिदिन बैंक से निर्धारित राशि आहरित कर संबंधित एटीएम में जमा करने जाते थे।

मामले में आरोपी योगेश यादव उर्फ योगी संबंधित एटीएम में निर्धारित राशि जमा न कर अपनी मर्जी से कम राशि जमा करता था और अंतर की राशि अपने व्यक्तिगत उपयोग एवं शान-ओ-शौकत में खर्च करता था उसे मुख्य आरोपी बनाया गया। वह कुछ राशि कैलाश यादव एवं आडिटर ललित नारायण साहू को भी देता था। ऐसे में इन दोनों को सह आरोपी बनाया गया था। इसके अलावा योगी इस रकम में से कुछ रकम शहर के धरमपुरा निवासी मंजूर रजा को दी है। उसे भी सह आरोपी बनाया गया था।

मंजूर-योगी को आमने-सामने बिठाकर होगी पूछताछ

पुलिस ने योगेश यादव को पुलिस रिमांड पर लिया हुआ है चूंकि अब मंजूर रजा की भी गिरफ्तारी हो गई है। अब योगी के बयान के आधार पर पहले मंजूर से पूछताछ होगी। इसके बाद जरूरत पड़ने पर दोनों को आमने-सामने बिठाकर भी पूछताछ की जा सकती है। इसके बाद नए खुलासे की उम्मीद है।

खबरें और भी हैं...