पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बढ़ रही है लापरवाही:कोरोना की दूसरी लहर के खतरे के बीच जांच कर दी आधी, एंटीजेन िकट के भरोसे किया जा रहा टेस्ट

जगदलपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहले प्रतिदिन की जाती थी औसतन 14 सौ से 17 सौ जांच, अब आठ से नौ सौ ही कर रहे

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का खतरा इन दिनों मंडरा रहा है। कई ऐसे इलाके हैं जहां दोबारा से पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ रही है। दूसरी लहर का खतरा बस्तर पर भी है लेकिन खतरे के बीच जब कोरोना संदिग्ध मरीजों की जांच की संख्या बढ़ाई जानी चाहिये तब यहां उसे आधा कर दिया गया है। यही नहीं कोरोना संदिग्धों की जांच के लिए भी एंटीजेन किट का ज्यादा से ज्यादा उपयोग किया जा रहा है जबकि कोरोना को ट्रेस करने के लिए आरटीपीसीआर ज्यादा सही माना जाता है और जिले में ही ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं जब एंटीजन किट से किये गये नतीजों में बदलाव देखा गया हो। इधर एक ओर जांच को लेकर अमला ढीला तो है ही दूसरी ओर लोग भी लापरवाह हो गए।

ट्रेवलिंग के बाद जांच के लिए नहीं जा रहे लोग
कोरोना संक्रमण के शुरुआती दौर से लेकर दिसंबर तक हर दिन स्वास्थ्य विभाग का अमला औसतन 14 सौ से 18 सौ लोगों का कोरोना टेस्ट कर रहा था। कोरोना की लहर कम हुई तो धीरे-धीरे जांच की संख्या भी कम होने लगी और घटते-घटते जांच की संख्या आधी कर दी गई। जांच की संख्या आधी होने के पीछे का एक कारण है कि लोग कोरोना को हल्के में लेने लगे। ट्रेवलिंग के बाद भी कोरोना जांच नहीं करवा रहे हैं।

अभी खतरा टला नहीं, बाहर से आने पर जांच करवायें
इधर मेकाज के कोविड प्रभारी नवीन दुल्हानी ने बताया कि वैक्सीनेशन की शुरुआत हो चुकी है लेकिन कोरोना का खतरा टला नहीं है। उन्होनंे लोगों से अपील की है कि यदि आप कहीं बाहर से ट्रेवल कर आये हैं तो शहर आते ही पहले एहतियातन कोरोना टेस्ट करवा लें डाॅ. नवीन दुल्हानी का कहना था कि अभी कोरोना का खतरा टला नहीं है।

नगरनार प्लांट क्षेत्र से रोज मिल रहे पॉजिटिव
कुछ दिनों में नगरनार स्टील प्लांट वाला इलाका डाॅक्टरों के लिए बड़ी चुनौती बन गया है। जिले में कोरोना के हर रोज जो दो से पांच मामले सामने आ रहे हैं उनमें से ज्यादातर पॉजिटिव इसी इलाके से हैं। डाॅक्टरों का कहना है कि हर रोज इस इलाके से पॉजिटिव मरीज मिल रहे है वे सभी ट्रेवल हिस्ट्री वाले लोग हैं। अभी उस इलाके में बड़ी संख्या में लोग काम कर रहे हैं। यहां के लोगों के लिए विशेष जांच और संक्रमण को रोकने के लिए विशेष व्यवस्था की जररूत है।

बसों में एक बर्थ पर दो अजनबियों को सुला रहे
बसों में भी लापरवाही शुरू कर दी गई है। एक बर्थ पर दो अलग-अलग स्थानों से ट्रेवल कर वापस शहर आने वाले अजनबियों को भी एक साथ सुलाया जा रहा है। जब यात्री काउंटर से टिकट बुक करवाता है तो उसे सिंगल बर्थ की जानकारी दी जाती है, लेकिन बस में सवार होते ही कंडक्टर अचानक एक बर्थ पर दो लोगों की बुंकिग की जानकारी देता है। मंगलवार की सुबह रायपुर से जगदलपुर पहुंचने वाले पथरागुड़ा निवासी सतीश साहू ने बताया कि रायपुर के पचपेढ़ी नाका स्थित सेठी ट्रेवल्स से उन्होंने मनीष ट्रेवलस की बस में स्लीपर बुक करवाई। पहले बताया गया कि बस में सिंगल बर्थ है लेकिन बाद में कंडक्टर ने जबरन एक अजनबी को उनकी बर्थ में उनके साथ सफर करवा दिया।

आरटीपीसीआर से ज्यादा एंटीजेन जांच, देखें आंकड़े
इधर कोरोना के मामले कम हुए तो अचानक आरटीपीसीअार जांच में भी कमी आ गई है पहले हर दिन औसता सात सौ से एक हजार लोगों का आरटीपीसीआर टेस्ट किया जा रहा था और करीब इतनी ही संख्या में एंटीजेन टेस्ट भी हो रहे थे। वर्तमान में आरटीपीसीआर टेस्ट को आधा कर दिया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें