पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अंग्रेजी स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती मामले में गड़बड़ी:दावा-आपत्ति के बाद जारी सूची में पात्र को बना दिया अपात्र

जगदलपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालय में बस्तर जिले के 6 स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती के लिए मंगाई गई दावा-आपत्ति के बाद पात्रता सूची जारी कर दी गई है। हालांकि दावा-आपत्ति की प्रक्रिया के बाद पात्रता सूची जारी कर दी गई है, लेकिन इस बार फिर पात्र उम्मीदवारों को भी अपात्र कर दिया गया है। इसकी जानकारी बस्तर जिले के पोर्टल पर भी अपडेट नहीं किया गया है और न ही इसकी जानकारी कलेक्टर को ही दी गई है।

बताया जाता है कि उम्मीदवारों की नियुक्ति के लिए पहले भी गड़बड़ी की गई थी, लेकिन अब दावा-आपत्ति की प्रक्रिया पूरी करने के बाद फिर से दोबारा वही गड़बड़ियों को दोहराया जा रहा है। बताया जाता है कि भर्ती में अंग्रेजी माध्यम के उम्मीदवारों को प्राथमिकता दी गई थी।

अगर अंग्रेजी माध्यम के उम्मीदवार अपनी अर्हता पूरी नहीं करते हैं, सिर्फ उसी स्थिति में हिंदी माध्यम के उम्मीदवारों को चुना जाना था, लेकिन यहां हिंदी माध्यम के उम्मीदवारों को भी पात्र बना दिया गया है। बताया ये भी जाता है कि अपने चहेतों को नियुक्त करने के लिए ये पूरा खेल खेला जा रहा है।

इतनी गोपनीयता कि कलेक्टर को भी नहीं पता
मालूम हो कि 25 अगस्त तक दावा-आपत्ति मंगाई गई थी। इसके बाद इनकी स्क्रूटनी की गई और दोबारा पात्रता सूची जारी की गई है। दावा-आपत्ति के बाद जारी हुई पात्रता सूची को शिक्षा विभाग ने गोपनीय बनाकर रखा हुआ है। शिक्षा विभाग ने इसमें इतनी गोपनीयता बरती है कि कलेक्टर को भी इसकी जानकारी नहीं दी और न ही बस्तर जिले के पोर्टल पर ही दावा-आपत्ति के बाद सूची अपलोड की गई है। जबकि भर्तियों में पारदर्शिता के लिए बस्तर जिले के पोर्टल पर ही विज्ञापन जारी किए जाते हैं और नतीजे भी इसी पोर्टल पर जारी किए जाते हैं।

गड़बड़ी मिली तो दोषियों पर होगा केस: कलेक्टर
कलेक्टर रजत बंसल ने बताया कि इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं दी गई है। उम्मीदवार दिन के चौबीसों घंटे अपनी शिकायत कंट्रोल रूम में दर्ज करवा सकते हैं। भर्ती प्रक्रिया की मॉनिटरिंग अब खुद वे ही करेंगे। इसमें अगर कहीं कोई भी गड़बड़ी पाई जाती है तो दोषी पाए जाने वाले अफसर-कर्मियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के साथ ही पुलिसिया कार्रवाई भी की जाएगी। गड़बड़ी करने वालों को छोड़ा नहीं जाएगा।

खबरें और भी हैं...