पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट:आंध्र में मिला कोरोना का नया वैरियंट, अब बिना जांच के किसी को एंट्री नहीं

जगदलपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • इधर आंध्र व ओडिशा में लॉकडाउन, इधर कोंटा में सीमा सील

बस्तर की सीमा से सटे आंध्रप्रदेश में सेंटर फॉर सेल्यूलर एंड मोलेक्यूलर बायोलॉजी (सीसीएमबी) ने कोरोना का नया वैरियंट ढूंढा है। यह वैरिएंट दुनिया में फैले कोरोना के बाकी वैरिएंट के मुकाबले 10 गुना अधिक तेजी से फैलता है और यह उसके मुकाबले कहीं ज्यादा खतरनाक है। सेंटर फॉर सेल्यूलर एंड मोलेक्यूलर बायोलॉजी (सीसीएमबी) ने कोरोना वायरस के नए वैरिएंट एन-440-के का पता लगाया है।

यह बी1.617 और बी1.618 के बाद का आया नया वैरिएंट है। सबसे पहले इसका पता आंध्रप्रदेश के कुरनूल में चला, इसके बाद विशाखापट्टनम और राज्य के अन्य हिस्से इस वैरियंट के मरीज मिले हैं। इधर इन इलाकों में नए वैरियंट के फैलने की पुष्टि के बाद बस्तर के लोगों की भी चिंता बढ़ गई है। दरअसल, आंध्रप्रदेश और बस्तर की सीमाएं जुड़ी हुई हैं और लॉकडाउन के बावजूद बड़ी संख्या में लोग इलाज के लिए विशाखापट्टनम जा रहे हैं। अभी खासतौर पर कोविड पॉजिटिव मरीजों को इलाज के लिए विशाखापट्टनम ले जाया जा रहा है। वहां से आने के बाद मरीज के परिजन क्वारेंटाइन के नियमों का सख्ती से पालन नहीं कर रहे हैं। ऐसे में अब नए वैरियंट के खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन ने कुछ कड़ाई के निर्णय लिए हैं।

इधर पड़ोसी राज्य आंध्रप्रदेश और ओडिशा में लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है। आंध्रप्रदेश व तेलंगाना में कोरोना के बढ़ते मरीजों को नजर अंदाज करते हुए कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए थे। लेकिन कोरोना मरीजों की संख्या में रोज इजाफा होता दिख रहा है। आंध्रप्रदेश व तेलंगाना में सरकार द्वारा बढ़ते कोरोना संक्रमण के रोकथाम हेतु किसी तरह का कोई ठोस कदम नहीं उठाना देख वहां की हाई कोर्ट ने भी फटकार लगाई थी। जिसके बाद दोनों राज्यों में छूट के साथ लॉकडाउन घोषित किया गया है। आंध्रप्रदेश में सुबह 6 से 12 बजे तक और ओडिशा में सुबह 7 से 2 बजे तक दुकानें खुली रहेंगी। सुकमा से लगे मलकानगिरी जिले में अभी कोरोना के आंकड़े 300 से ज्यादा हैं। इधर बार्डर पर जांच तेज की गई है, आपातकालीन सेवा को छोड़ अन्य सभी की आवाजाही पर भी रोक लगा दी गई है।

बॉर्डर पर विशेष स्क्रीनिंग और कोरोना जांच
कलेक्टर रजत बंसल ने बताया कि हमारे पास भी नए वैरियंट को लेकर खबरें हैं। हमने तय किया है कि अभी धनपुंजी और केशलूर बॉर्डर पर आने वाले लोगों की विशेष स्क्रीनिंग की जाएगी और खास तौर पर जो लोग आंध्रप्रदेश से आ रहे हैं उनकी कोरोना जांच बॉर्डर पर हो इसका ध्यान रखा जाएगा। इसके अलावा जो लोग इलाज के लिए विशाखापट्टनम जा रहे हैं और वहां से वापस आ रहे हैं उन्हें कड़ाई के साथ क्वारेंटाइन के नियमों का पालन करना होगा।

जानिए, कैसा है ये नया वैरियंट और किन-किन राज्यों में फैला
वैज्ञानिकों के अनुसार कोरोना का एन-440-के वैरिएंट मुख्य तौर पर दक्षिणी राज्यों जैसे- तेलंगाना, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक के साथ ही महाराष्ट्र के हिस्सों में पाया गया है। सीसीएमबी के वैज्ञानिकों ने अध्ययन के दौरान यह पाया कि “कोरोना के एन-440-के वैरिएंट में A2a प्रोटोटाइप स्ट्रेन के मुकाबले 10 गुना अधिक वायरस फैलाने की क्षमता है। कोरोना का A2a प्रोटोटाइप स्ट्रेन दुनियाभर में फैला हुआ है। ऐसे में अन्य वायरस की तुलना में कोरोना के एन-440-के वेरिएंट कम समय में कई गुना अधिक वायरस पैदा करने की क्षमता रखता है। सीसीएमबी के वैज्ञानिकों का कहना है कि कोरोना के बदले हुए स्वरूप एन-440-के वेरिएंट में काफी कम समय में कई गुना ज्यादा मात्रा में वायरस को फैलाने की क्षमता है। जिन राज्यों में नया वैरिएंट मिला है वहां के केन्द्रों से उन्होंने से सैंपल इकट्ठा किया है उनमें से 50 फीसदी में कोरोना का एन-440-के वैरिएंट पाया गया है। इसमें यह भी पता चला कि यह वायरस आबादी के एक खास हिस्से में फैल रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें